जेल में कैद नेताओं को छुड़ाने “आप” ने घेरा सीएम हॉउस

रायपुर। प्रधानमंत्री के छत्तीसगढ़ दौरे के दौरान प्रदर्शन कर रहे आम आदमी पार्टी के नेताओं को गिरफ्तार कर जेल भेजने के विरोध में आप कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री निवास घेरने निकले। सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्त्ता पार्टी के वरिष्ठ नेता आनंद मिश्रा और प्रवक्ता उचित शर्मा की अगुवानी में मुख्यमंत्री निवास की और निकले। आप कार्यकर्ताओं ने इसके पहले बुधतलाब धरना स्तहल में रमन सरकार के खिलाफ़ जमकर हल्लाबोला। आप के नेताओं ने कहा कि रमन सरकार के बड़ते हुए दमनकारी नीतियों एवं आम आदमी पार्टी के बड़ते हुए जनाधार के चलते सरकार प्रशासन के माध्यम से द्वेषपूर्ण कार्यवाही कर रही है ! आप के वरिष्ठ नेता आनंद मिश्रा ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि रमन सरकार इतनी डरी हुयी है कि तीसरी शक्ति को विकल्प के रूप में किसी भी राजनैतिक पार्टी को उभरने नहीं देना चाहती ! वहीं प्रवक्ता उचित शर्मा ने कहा इसे रमन का दमन कहते हुए लोकत्रंत्र की हत्या एवं पुलिसिया कार्यवाही में व्यस्त रखने की साजिश बताई ! पार्टी सह संगठन प्रभारी सूरज उपाध्याय ने दिल्ली की तर्ज पे छत्तीसगढ़ में भी आम आदमी पार्टी के नेताओं पे फर्जी केसों को लाद कर नेताओं को डराने का प्रयास कर रही है !

याचिका हुई खारिज़
सौरभ निर्वाणी एवं राहुल श्रीवास्तव कोर्ट के कार्यवाही के बारे में बताया कि सेशन कोर्ट ने जमानत याचिका खारिज कर दी है ! सौरभ निर्वाणी ने कहा कि ये आम आदमी के स्वाभिमान की लड़ाई है और वो इन पुलिसिया एवं प्रशासन द्वारा छद्म रूप से लगाई गयी आपराधिक धाराओं से डरने वाले नहीं है हम आंदोलन से उपजी हुयी पार्टी के लोग है और बिना झुके हुए हम अपनी लड़ाई को आगे अब हाई कोर्ट तक लड़ेंगे !