जन घोषणा पत्र को पूरा करने वाला होगा ” भूपेश का बजट “

सरकार के पहले बजट को लेकर विभागीय मंत्रीयों में दिखी रूचि

रायपुर। छत्तीसगढ़ में हाल ही में बनी भूपेश सरकार का पहला बजट सत्र फरवरी महीने में आहूत किया गया है। कयास लगाए जा रहे हैं कि भूपेश सरकार का पहला बजट पिछली सरकार से तकरीबन तीन से पांच फ़ीसदी तक बड़ा होगा।

भूपेश बघेल

इसके साथ ही भूपेश सरकार का बजट कांग्रेस के जन घोषणा पत्र के वादों को पूरा करने वाला होगा। सरकार की ओर से इस बार के बजट में बेरोजगारी, स्वास्थ्य और व्यवसाय में कई बड़े फेरबदल होने की उम्मीद है। माना जा रहा है कि सरकार अपने बजट में सबसे ज्यादा मद रोजगार और स्वास्थ्य के क्षेत्र में दे सकती है। इसके बाद शिक्षा और व्यवसाय को भूपेश सरकार तवज्जो देगी। वित्त विभाग ने बजट की तैयारियों के लिए कुछ दिन पहले मंत्री स्तर पर रायशुमारी की थी। जिसके बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के विभागों के बजट प्रस्तावों पर चर्चा पूरी हो चुकी है। अब प्रस्तावित बजट को 28 या फिर 29 जनवरी को संभावित कैबिनेट की बैठक में रखा जाएगा। बजट प्रस्तावों को मंजूरी के बाद बहुपक्ष बघेल बतौर मुख्यमंत्री और वित्त मंत्री के रूप में ​विधानसभा में अपना पहला बजट पेश करेंगे।

मंत्रियों ने दिए सुझाव
राज्य के बजट निर्माण में कांग्रेस सरकार के मंत्रियों ने भी अपने विभाग की योजनाओं के लिए बजट माँगा। अपने अपने क्षेत्र की समस्याएं, मांग तथा सुधार के हिसाब से सुझााव दिए है। बजट की चर्चा में शामिल होने से पहले मंत्रियों ने विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक कर बहुत सी चीजों को देखा तथा समझा है।