मुख्यमंत्री भूपेश ने फहराया तिरंगा, किसानों पर फोकस रहा संबोधन

सीएम ने संबोधन में सरकार के फैसलों और प्राथमिकता का किया जिक्र

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राजधानी रायपुर पुलिस ग्राउंड में तिरंगा फहराया। ध्वजारोहण के बाद पुलिस मैदान में भूपेश बघेल ने परेड की सलामी ली।

मुख्यमंत्री भूपेश                 भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों को संबोधित करते हुए अपने भाषण की शुरुआत छत्तीसगढ़ी में की। उन्होंने सबसे पहले प्रदेश के उन विभूतियों को नमन किया जिन्होंने स्वतंत्रता आंदोलन में अपनी महती भूमिका निभाई है। बघेल ने इस दौरान सरकार की अब तक उपलब्धियों का बखान किया। साथ ही उन्होंने सरकार की प्राथमिकताएं बताई। बघेल ने कहा कि सरकार सबसे पहली प्राथमिकता है गांव-गरीब और किसान है। उन्होंने कहा कि हमने ग्रामीण विकास को प्राथमिकता में रखा है। ग्राम स्वराज से छत्तीसगढ़ और भारत को हम समृद्ध करने के लिए प्रतिबद्ध है। बघेल ने कर्ज माफी, सिंचाई व्यवस्था, धान का समर्थन मूल्य जैसे तमाम फैसलों को भी गिनाया। उन्होंने झीराम नान जैसे मामलों की जांच पर भी अपनी बात रखते हुए कहा कि प्रदेश सरकार लोगों को न्याय दिलाने का काम करेगी।

मुख्यमंत्री भूपेश

बदला कृषि विभाग का नाम
सीएम भूपेश ने किसानों के लिए कई सौगातों का ऐलान करते हुए कृषि विभाग का नाम बदलने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग का नाम अब कृषि विकास किसान कल्याण और जैव प्रौद्योगिकी विभाग किया गया है। इससे किसानों के कल्याण का लक्ष्य हमेशा हमारे सामने रहेगा।