चित्रकोट उपचुनाव : पूनम बैज को टिकट तो बगावत ?

भाजपा में भी टिकट को लेकर उहापोह

चित्रकोट। चित्रकोट विधानसभा उपचुनाव की तारीख तय होते ही राजनीतिक हलचल तेज हो गई है। बैठकों के अलावा सोशल मीडिया पर नामों को लेकर चर्चाओं और विरोध के स्वर सामने आने लगे हैं। सबसे ज्यादा चर्चा बस्तर सांसद दीपक बैज की पत्नी पूनम बैज को लेकर सामने आ रहा है। जहां भाजपा से लच्छु कश्यप के साथ ही विनायक गोयल का नाम सामने आ रहा है। वहीं जगदलपुर में हुई कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक में 13 दावेदारों के नाम सामने आये। इनमें बस्तर सांसद दीपक बैज की पत्नी पूनम बैज का नाम लिस्ट में सबसे ऊपर दिखा।

जिसको लेकर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में नाराजगी सामने आ रही है।लिस्ट में पूनम बैज का नाम सबसे ऊपर देखकर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में पार्टी और दावेदारों को लेकर चर्चा शुरू हो गई है। सोशल मीडिया के माध्यम से कार्यकर्ता अपनी बातें रखने लगे हैं। एक कांग्रेस कार्यकर्ता ने लिखा है कि पूनम बैज एक शासकीय कर्मचारी हैं, जिन्होंने कभी पार्टी का झंडा तक नहीं उठाया और सांसद अपनी पत्नी को टिकट दिलाकर कश्यप परिवार की तरह परिवारवाद बनाना चाहते हैं। सूत्रों से के मुताबिक कांग्रेस से पूनम बैज को टिकट मिलने से बगावत की स्थिति निर्मित हो जाएगी। साथ ही कांग्रेस के कार्यकर्ता पार्टी छोड़ भाजपा में शामिल होने की बात भी सामने आ रही है।

भाजपा चुनाव प्रभारी ने ली बैठक
इधर चित्रकोट उपचुनाव को लेकर विधानसभा चुनाव प्रभारी एवं जांजगीर के विधायक नारायण चंदेल भाजपा जिला कार्यालय में क्षेत्र के पदाधिकारी एवं वरिष्ठ कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर प्रत्याशी के संबंध में रायशुमारी की गई। चित्रकोट विधानसभा क्षेत्र के मंडल स्तर के पदाधिकारियों के साथ काफी संख्या में वरिष्ठ कार्यकर्ता जिला कार्यालय पहुंच कर अपने-अपने प्रत्याशी के संबंध में विधानसभा चुनाव प्रभारी के समक्ष बातें रखी। सूत्रों के अनुसार चित्रकोट विधानसभा प्रत्याशी को लेकर प्रमुख रूप से पूर्व विधायक लच्छुराम कश्यप, जिला पंचायत सदस्य विनायक गोयल, बास्तानार भाजयुमो के अध्यक्ष बुधराम करटम और दरभा क्षेत्र के भाजपा नेता हिड़मा राम कुंजाम के नामों पर चर्चा हुई।

पुराने पर भाजपा में भी रार
बताया जाता है कि पूर्व विधायक लच्छु कश्यप को विधायक प्रत्याशी बनाये जाने के समर्थन में माहौल नजर आया। दूसरे क्रम पर विनायक गोयल के नाम पर चर्चा होने की बात सामने आई। लोगों का यह विचार सामने आया कि यदि पुराने प्रत्याशी को टिकट प्रदान किया जाता है तो लच्छु कश्यप प्रत्याशी हो सकते हैं। यदि पार्टी नये प्रत्याशी पर विचार करेगी तो विनायक गोयल के प्रत्याशी चुने जाने की संभावना है।

गौरतलब है कि चित्रकोट विधानसभा चुनाव में वर्तमान सांसद दीपक बैज ने पूर्व विधायक बैदूराम कश्यप को पराजित किया था। उनके सांसद चुने जाने पर यह सीट खाली हुआ है। उपचुनाव की प्रक्रिया भी प्रारंभ हो चुकी है। 30 सितम्बर तक नाम निर्देशन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि है। उम्मीद लगाई जा रही है कि 27 सितम्बर तक भाजपा चित्रकोट विधानसभा के लिए प्रत्याशी की घोषणा कर देगी।