सड़क से सदन तक कांग्रेस का चौतरफ़ा हमला, तीन जुलाई को कांग्रेस घेरेगी विधानसभा

रायपुर। शहर जिला कांग्रेस कमेटी तीन जुलाई को विधानसभा का घेराव करने की तैयारी में जुटी है। कांग्रेस प्रमुख रूप से युवाओं की बेरोजगारी, आदिवासी और आबादी क्षेत्रों के पट्टे, आवास, जाती प्रमाण पत्र, गरीबी रेखा कार्ड, पेंशन योजना और किसानों के कई मुद्दों लेकर विधानसभा घेरेगी। इस घेराव में हज़ारों कार्यकर्ता अपनी गिरफ्तारी देंगे।
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर डीसीसी ने विधानसभा घेराव की रणनीति बनाई है। इसमें आबादी भूमि, नजूल या घास भूमि पर बरसो से घर बनाकर रहे लोगो को स्थाई पट्टा देने की मांग, सभी गरीब परिवार को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान, स्मार्ट सिटी एवं विकास कार्यो के नाम से झुग्गी बस्तियों में तोड़-फोड़ बंद किया जाने की मांग उठाया जाएगी। विकास ने बताया कि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग एवं उत्कल सामाज व अन्य आरक्षित वर्गो को जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र बनाने में कई तरह की परेशानिया होती है जिनका सरली कारन किया जाना चाहिए। सरकार ने खुद घोषणा की थी कि अब 1950 व 1984 के दस्तावेज के बगैर जाति प्रमाण पत्र बनाकर दिया जाएगा मगर अब तक ऐसा नहीं हुआ। इसके आलावा कांग्रेस ने गरीब विधवा पेंशन, वृद्धा पेंशन, परित्यकता पेंशन तथा विकलांग पेंशन मे 2007- 2008 व 2011 की गरीबी रेखा के कार्ड की अनिवार्यता समाप्त करने। स्मार्ट कार्ड एवं आष्युमान योजना के तहत सभी को पूर्ण इलाज देने, राशन कार्ड निरस्तीकरण जैसी मांगों को भी रखा गया है।

जायज़ है पुलिस परिवार की मांग
शहर कांग्रेस जिला अध्यक्ष विकास ने पुलिस परिवार की सभी मांगों को जायज बताते हुए उनकी मांगों को पूरा करने वकालत की है। उन्होंने कि पुलिस परिवार के परिजनों के मांगो एवं शासकीय कर्मचारियों के मांगो को सरकार पूरा करे, बेरोजगार युवाओं को बेरोजगारी भत्ता दें, महिलाओं को पर्याप्त सुरक्षा दें, राजधानी के लचर सुरक्षा व्यवस्था को दुरूस्थ करें। विकास ने छत्तीसगढ़ संचार क्रांति के तहत सभी को मोबाईल, जिला चिकित्सालय में पर्याप्त संख्या में चिकित्सक, स्टाफ, नर्स एवं चिकित्सीय संसाधनों की व्यवस्था, गैस सिलेंडर, पेट्रोल-डीजल में राज्य सरकार वैट टेक्स एवं सरचार्ज कम करें। बहरहाल इन मांगों और जंगी प्रदर्शन से कांग्रेस चुनावी अखाड़े में कितने पायदान आगे खसकती है, ये तो आने वाला परिणाम ही बताएगा।