दिल्ली: केजरीवाल की हैट्रिक, भाजपा 7 पर सिमटी

कांग्रेस का खाता भी नहीं खुला, आधा दर्जन से ज्यादा  पार्टियों की जमानत जब्त

दिल्ली। केजरीवाल ने तीसरी बार शानदार जीत दर्ज की है। अबतक मिली नतीजों को देखते हुए आप को 63 सीटें मिली हैं। भाजपा को केवल 7 सीटें मिली है। कांग्रेस ने पिछले साल की तरहा इस साल भी अपना खाता नहीं खोल पाया है। बतादें कि 2 साल में 7 राज्यों में भाजपा ने अपना जनाधार खोया है।

7 राज्य में अब भाजपा की सरकार नहीं रही है। यहां कांग्रेस का बहुत ही खराब प्रदर्शन रहा है। बतादें कालकाजी सीट से आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार आतिशी ने 11, 300 वोटों से जीत हासिल की।

वहीं डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया भी पटपड़गंज सीट से जीत हासिल करने में कामयाब रहे। वहीं, राजेंद्र नगर सीट भी आप उम्मीदवार राघव चड्ढा ने 19 हजार वोटों से ज्यादा से जीत ली। मतगणना सुबह 8 बजे शुरू हुई थी। दिल्ली में कुल 70 विधानसभा सीटें हैं, जिन पर कुल 672 उम्मीदवार मैदान में थे।

मतगणना के शुरुआती रुझानों में आप की निर्णायक जीत के स्पष्ट संकेत मिलने पर आप के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने कहा कि दिल्ली के प्रचंड जनादेश ने साफ संदेश दिया है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आतंकवादी नहीं बल्कि पक्के देशभक्त हैं। सिंह ने कहा कि दिल्ली की सत्ता हासिल करने के लिये भाजपा ने पूरी ताकत लगा दी लेकिन इस चुनावी जंग में ‘दिल्ली का बेटा’ जीत गया।

सिंह ने ट्वीटर पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा, ‘दिल्ली के दो करोड़ परिवारों के लोगों ने बता दिया कि उनका बेटा अरविंद केजरीवाल आतंकवादी नही, पक्का देशभक्त है।

संबंधित पोस्ट

आर्मी बैंड और मशाल की रोशनी के बीच ‘जश्न-ए-हिंद’ का आगाज

कुछ देर खुलने के बाद फिर बंद हुआ महामाया पुल

तिहाड़ जेल में मारपीट, 10 कैदी मामूली जख्मी

दिल्ली की नई कैबिनेट में भी कोई महिला नहीं

अरविंद केजरीवाल ने रामलीला मैदान में तीसरी बार सीएम पद की शपथ ली

तीसरी बार मुख्यमंत्री पद के लिए आज शपथ लेंगे अरविंद केजरीवाल

दिल्ली : एटीएम मशीन ले गए उखाड़, निकले महज 55 हजार

निर्भया मुजरिमों की फांसी बेमुद्दत टली

जामिया गोलीकांड : हत्या की कोशिश व आर्म्स एक्ट का केस दर्ज

लड़कियों को दिल्ली भेजने वाला मानव तस्कर गिरफ्तार

मेरा मकसद भ्रष्टाचार को हराना, दिल्ली को आगे ले जाना है : केजरीवाल

मेट्रो स्टेशन पर पहली बार, महिला कारतूसों संग गिरफ्तार