” खेत चलों अभियान ” से हुंकार भरेंगे जोगी, मुजगहन में बटाएँगे किसानों का हाथ

रायपुर। जनता कांग्रेस सुप्रीमों अजीत जोगी अब स्वस्थ होने के बाद 23 जुलाई से प्रदश के सियासी मैदान में हुंकार भरेंगे। पार्टी के खेत चलो अभियान के साथ जोगी अपनी सक्रियता दिखाएंगे। इस अभियान के तहत पार्टी के सभी कार्यकर्ता किसानों के साथ खेतों में उतर कर श्रमदान करेंगे। साथ ही किसानों को ये भी बताएंगे कि जोगी सरकार बनते ही 2500 रूपये प्रति क्विंटल धान का समर्थन मूल्य दिया जायेगा, यही नहीं किसानों के सर से कर्ज का बोझन भी उतारा जाएगा। खेतों में अपने श्रमदान के दौरान कार्यकर्ता किसानों को पार्टी का चुनाव चिन्ह का बिल्ला देंगे, जिसमें अजीत जोगी की फोटो, पार्टी का नाम और चुनाव चिन्ह होगा।इस अभियान के जोगी ने एक खेत में कम से कम 10 सदस्य को जाने कहा है। इतना ही नहीं इन कार्यकर्ताओं को हर रोज़ किसानों के साथ चार घंटे खेतों मे श्रमदान करने की नसीहत भी पार्टी सुप्रीमों ने दी है। 6 दिनो तक चलने वाले इस अभियान के अंत तक छत्तीसगढ़ के हर खेत में पार्टी के सदस्य पहुंचने का निर्देश दिया गया है।

मुजगहन में जोगी देंगे श्रमदान
पार्टी सुप्रीमों अजीत जोगी 23 जुलाई को रायपुर के ग्राम मुजगहन से इस अभियान का आगाज़ करेंगे। वहीं 23 जुलाई को ही कांग्रेस विधायक अमित जोगी बिलासपुर में, ऋचा जोगी राजनांदगांव में देवव्रत सिंह कवर्धा में, धरमजीत सिंह बेमेतरा में, विधायक सियाराम कौशिक जांजगीर-चांपा में एवं इस कार्यक्रम के संयोजक छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस किसान विभाग के अध्यक्ष द्वारिका साहू दुर्ग में अपने हाथों में चुनाव चिन्ह लेकर ’’खेत चलो अभियान’’ का शुभारंभ करेगें।