जाति के चक्कर में मनेंद्रगढ़ विधायक डॉ विनय जायसवाल भी…

फ़र्ज़ी जाति के मामले में अदालत ने किया है तलब

रायपुर। जाति प्रमाण के चक्कर में उलझे जोगी कांग्रेस प्रमुख अजीत जोगी और अमित जोगी के बाद अब मनेन्द्रगढ़ विधायक डा विनय जायसवाल भी अदालत तलब हुए हैं। उन पर आरोप है कि एमबीबीएस के दाखिले के लिए फर्जी ओबीसी प्रमाण पत्र का सहारा लिया। सत्र न्यायालय मनेन्द्रगढ़ में दायर इस मामले की सुनवाई 19 सितंबर को होगी।

               जिला कोरिया के खड़गाँव निवासी सुमंत गांगुली ने चुनाव से पहले पुलिस में इसकी शिकायत की थी। कार्रवाई नहीं होने पर कोर्ट में अर्जी लगाई थी, जिसे खारिज कर दिया गया था। इसके बाद पुनविचार याचिका दायर की जिस पर कोर्ट ने जायसवाल को हाजिर होने कहा है। विधायक ने इसे राजनीति से प्रेरित करार देते हुए कहा कि आरोपों में कोई सच्चाई नहीं है। छत्तीसगढ़ में सारे जायसवाल पिछड़ा वर्ग में आते हैं।

संबंधित पोस्ट

अजीत जोगी का बीपी, हार्ट रेट हुआ कंट्रोल पर हालत अब भी गंभीर

Medical Bulletin : जोगी की तबियत में मामूली सुधार, दिखी थोड़ी हलचल

अजीत जोगी से मिलने पहुंचे सीएम भूपेश, रेणु से जाना हालचाल…

अजीत जोगी को कार्डियक अरेस्ट, बेटे अमित ने की प्रार्थना की अपील…

सूबे के पूर्व सीएम की तबीयत बिगड़ी साँस लेने में हो रही तकलीफ़

दर्ज़ FIR पर बोले जूनियर जोगी “हमारे लिए सभी न्यायिक विकल्प खुले”

अप्रत्यक्ष प्रणाली के खिलाफ सड़क पर उतरेगी जनता कांग्रेस

अजीत जोगी के खिलाफ दर्ज़ FIR पर अब 8 नवंबर को सुनवाई…

जोगी को झटका, FIR रद्द करने की याचिका हाईकोर्ट में खारिज

अंतागढ़ टेपकांड : SIT को झटका, वॉइस सैम्पल की याचिका खारिज

मंतूराम का बड़ा ख़ुलासा : 6 और प्रत्याशियों को बिठाया, दी थी मारने की धमकी

गौरेला उपजेल पहुंचे अमित जोगी, डॉक्टरों की टीम ने बताया फिट