जाति के चक्कर में मनेंद्रगढ़ विधायक डॉ विनय जायसवाल भी…

फ़र्ज़ी जाति के मामले में अदालत ने किया है तलब

रायपुर। जाति प्रमाण के चक्कर में उलझे जोगी कांग्रेस प्रमुख अजीत जोगी और अमित जोगी के बाद अब मनेन्द्रगढ़ विधायक डा विनय जायसवाल भी अदालत तलब हुए हैं। उन पर आरोप है कि एमबीबीएस के दाखिले के लिए फर्जी ओबीसी प्रमाण पत्र का सहारा लिया। सत्र न्यायालय मनेन्द्रगढ़ में दायर इस मामले की सुनवाई 19 सितंबर को होगी।

               जिला कोरिया के खड़गाँव निवासी सुमंत गांगुली ने चुनाव से पहले पुलिस में इसकी शिकायत की थी। कार्रवाई नहीं होने पर कोर्ट में अर्जी लगाई थी, जिसे खारिज कर दिया गया था। इसके बाद पुनविचार याचिका दायर की जिस पर कोर्ट ने जायसवाल को हाजिर होने कहा है। विधायक ने इसे राजनीति से प्रेरित करार देते हुए कहा कि आरोपों में कोई सच्चाई नहीं है। छत्तीसगढ़ में सारे जायसवाल पिछड़ा वर्ग में आते हैं।