15 दिसंबर को मुख्यमंत्री का शपथ ग्रहण, आ सकते है राहुल गांधी

मुख्यमंत्री के साथ कैबिनेट मंत्रियों को भी दिलाई जाएगी पद और गोपनीयता की शपथ

रायपुर। छत्तीसगढ़ की जनता को 15 दिसंबर से नई सरकार मिलेगी। 15 दिसंबर को राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। इस शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी छतीसगढ़ आ सकते है। मुख्यमंत्री का नाम फ़ाइनल होने के बाद प्रदेश के तमाम नेताओं की और से उन्हें शपथ ग्रहण समारोह में निमंत्रण भेजने की तयारी की गई है।

मुख्यमंत्री का शपथ ग्रहण

इधर 15 दिसंबर के शपथ ग्रहण समारोह के लिए पूरा प्रशासनिक अमला जुटा हुआ है। तैयारियों का जायजा लेने के लिए रायपुर एसएसपी अमरेश मिश्रा जिला कलेक्टर एस बसवराजू समेत तमाम अधिकारी साइंस कॉलेज मैदान पहुंचे। जहां उन्होंने सीएम के कार्यक्रम स्थल आने का वीआइपीज मूवमेंट, पार्किंग की अलग व्यवस्था की है। साथ ही शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचने वाले कार्यकर्ताओं और आम जनता के मैदान के भीतर आने, उनकी पार्किंग बैठक की व्यवस्था, पीने के पानी की व्यवस्था, जैसी हर एक व्यवस्थाओं पर ध्यान दिया जा रहा है। साथ ही कार्यक्रम के दौरान नगर निगम को पर्याप्त मात्रा में पानी, सफाई रखने के साथ बिजली विभाग को पर्याप्त लाइटिंग की जिम्मेदारी दी गई है।

मुख्यमंत्री का शपथ ग्रहण

संबंधित पोस्ट

मरवाही में हमारी स्थिति मजबूत, उप चुनाव में जीत हमारी- भूपेश बघेल

मप्र उपचुनाव में ‘दगाबाजी’ और ‘दलित उपेक्षा’ को मुद्दा बनाने की कोशिश

मप्र में भाजपा विधायक कोरोना पॉजिटिव, सियासत में उबाल

राजनांदगावः भाजपा छोडऩे के बाद गोस्वामी ने रमन को लिया आड़े हाथ

राजनांदगांवः राहुल के जन्मदिन पर बेसहारा बुजुर्गों के बीच पहुंचे कांग्रेसी

मप्र विस उपचुनाव में भाजपा कमल नाथ के छिंदवाड़ा प्रेम को मुद्दा बनाने की तैयारी में

फेसबुक पर चिरमिरी ब्लाक कांग्रेस सचिव की महिलाओं पर अश्लील टिप्पणी से बवाल

‘मुख्यमंत्री अधोसंरचना उन्नयन योजना’ के तहत होगा शिक्षा, स्वास्थ्य का उन्नयन

डॉ.रमन के वार का कांग्रेस ने दिया तल्ख जवाब,सभी वादे होंगे पूरे

कांग्रेस पदाधिकारियों को मिली जिम्मेदारियां, पीसीसी चीफ ने ज़ारी की सूची

एमपी पीएससी परीक्षा में विवादित सवाल पूछने वाले पर कार्रवाई होगी : कमलनाथ

रायपुर से कांग्रेसियों ने निकाली घोटाले की बारात