नीतीश के नेतृत्व में बिहार चुनाव लड़ेगा राजग : शाह

हाजीपुर। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष और देश के गृहमंत्री अमित शाह ने यहां गुरुवार को कहा कि भाजपा और जनता दल (युनाइटेड) का गठबंधन अटूट है और इस साल होने वाला विधानसभा चुनाव भी राजग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में लड़ेगा। पूरी दुनिया को लोकतंत्र का पाठ पढ़ाने वाले वैशाली में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के समर्थन में जन जागरूकता जनसभा को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि यह कानून किसी की नागरिकता छीनने का नहीं, बल्कि नागरिकता देने का कानून है। उन्होंने कहा कि विरोधी इस मामले में युवाओं और मुसलमानों को गुमराह कर रहे हैं।

शाह ने सीएए का विरोध करने वाले और जेएनयू में कथित रूप से भारत विरोधी नारे लगाने वालों पर जमकर निशाना साधा।

उन्होंने कहा, “अभी तीन साल पहले जेएनयू में नारे लगे, भारत तेरे टुकड़े होंगे एक हजार। ऐसे नारे लगाने वालों को मोदीजी ने जेल भेज दिया, परंतु आज केजरीवाल ने उनपर केस चलाने की अनुशंसा नहीं की। परंतु मैं आपसभी को बता देता हूं कि ममता दीदी हों, केजरवाल हों, लालू प्रसाद हों या राहुल बाबा हों, कान खोलकर सुन लो कि यह नरेंद्र मोदी की सरकार है। भारत की भूमि पर भारत विरोधी जो भी नारा लगाएगा, भारत माता की टुकड़े करने की जो बात करेगा, उसकी जगह जेल की सलाखों के पीछे होगी।”

उन्होंने कहा, देश जब आजाद हुआ तो पूर्वी और पश्चिमी पाकिस्तान में तीस-तीस प्रतिशत अल्पसंख्यक थे, लेकिन इन्हें प्रताड़ित कर खदेड़ दिया गया। इनका धर्म परिवर्तन किया गया। विरोधी दल ऐसे प्रताड़ित लोगों को नागरिकता देने का क्यों विरोध कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, “जिस परिवार में पिता के सामने बेटी का, पति के सामने पत्नी का दुष्कर्म किया गया, गुरुद्वारों और मंदिरों को मस्जिद बना दिया गया, उनके मानवाधिकारों का हनन किया गया। मैं ह्मून राइट्स के चौंपियनों से पूछना चाहता हूं कि जब ये सिटिजनशिप अमेंडमेंट एक्ट उन लोगों के राइट्स लौटाने के लिए हैं तो इसका विरोध क्यों हो रहा है।”

शाह ने मोदी सरकार की तारीफ करते हुए कहा, “नरेंद्र मोदी की सरकार ने जम्मू-कश्मीर से 370 और 35ए को उखाड़कर फेंक दिया। आज कश्मीर में तिरंगा शान से आसमान छू रहा है। पाकिस्तान से आतंकी आते थे और हमारे जवानों का सिर काटकर ले जाते थे। उनको मारना चाहिए या नहीं? कांग्रेस की सरकार कुछ नहीं करती थी। मनमोहन सिंह मौनी बाबा बने चुप बैठे रहते थे। मोदी जी ने एयर स्ट्राइक और सर्जिकल स्ट्राइक कर आतंकियों को सबक सिखाने का काम किया। इसका भी कांग्रेस एंड कंपनी विरोध करती है। इमरान खान भी सबूत मांगते हैं। सभी मुद्दों पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और कांग्रेस, लालू, ममता की भाषा एक है। मैं पूछता हूं कि इन सबके बीच क्या रिश्ता है?”

शाह ने बिहार की राजनीति पर चर्चा करते हुए कहा, “कुछ लोग अफवाह फैलाना चाहते हैं। मैं सभी अफवाह को खत्म करने आया हूं। बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में राजग चुनाव लड़ेगा। भाजपा और जदयू का गठबंधन अटूट है। इसमें कोई सेंधमारी नहीं हो सकती।”

उन्होंने कहा कि लालू यादव को जेल में रहकर फिर से मुख्यमंत्री बनने का सपना आने लगा है। उन्होंने कहा कि जब बिहार में लालू प्रसाद का राज था, तब बिहार का विकास दर तीन फीसदी था। नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार का विकास दर 11 फीसदी है। बिहार में राजग की सरकार लगातार अच्छा काम कर रही है। उन्होंने कहा कि लालू राज में जंगल राज था और आज जनता का राज है।–(आईएएनएस)

संबंधित पोस्ट

अखिलेश सीएए पर बहस को तैयार, ‘डंके की चोट’ शब्द को लेकर तंज कसा

संविधान को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर 3 महीने में फैसला ले केंद्र : सुप्रीम कोर्ट

भाजपा का हल्ला बोल, रमन बोले “गंगाजल की कसम भी भूल गए”

बंगाल में बोले अमित शाह 23 मई को होगा दुर्गा पूजा सा माहौल

शराब लॉबी से कांग्रेस ले रही करोड़ो का चंदा – भाजपा

अमित शाह ने भीमा मंडावी मामलें पर की सीबीआई जाँच की मांग

रायपुर से कांग्रेसियों ने निकाली घोटाले की बारात

भाजपा-कांग्रेस में प्रत्याशी तय होने के बाद जीत के दावों का दौर शुरू

पश्चिम बंगाल को संवेदनशील राज्य घोषित करने भाजपा ने रखी मांग

PM In CG : मोदी बोले-मैं तो हर दिन साढ़े चार साल का हिसाब देता हूं

प्रदेश भर में भाजपा के 72 प्रत्याशियों ने भरा नामांकन

भाजपा की लिस्ट जारी, टूटी रमशीला की उम्मीद…