शरद पूर्णिमा के शुभ चौघडिया में रमन ने दाखिल किया नामांकन

योगी आदित्यनाथ से मिला " विजयी भवः " का आशीर्वाद

रायपुर। तीन दफ़े मुख्यमंत्री रह चुके डॉ रमन सिंह ने चौथी दफ़े अपना नामांकन दाखिल किया है। इस नामांकन दाखिले के दौरान यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ मौजूद रहे। साथ ही प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, प्रदेश प्रभारी अनिल जैन भी रमन के साथ पहुचे थे। रमन के आलावा राजनांदगांव जिले के सभी 6 प्रत्याशियों ने अपना नामांकन दाखिल किया। नामांकन दाखिले के दौरान डॉ रमन सिंह के साथ उनकी पत्नी विणा सिंह, पुत्र और राजनांदगांव सांसद अभिषेक सिंह भी रहे मौज़ूद रहे।

डॉ रमन सिंह

दरअसल आज शरद पूर्णिमा है। साथ ही इसी दिन को कोजागरी पूजा भी की जाती है। पंडितों की मानें तो इस दिन का पंचाग मुहूर्त भी चौघडिया है। जिसमे किए गए हर कार्य अभेद और अकाट्य होते है। 23 तारीख को सुबह 11:42 से 12:27 बजे तक का समय शुभ मुहूर्त माना जा रहा है। लिहाज़ा डॉ रमन समेत राजनांदगांव के सभी 6 प्रत्याशी इस ख़ास दिन के खास मुहूर्त में ही अपना नामांकन दाखिल किया। रमन के नामांकन दाखिले के दौरान प्रदेश भाजपा के तमाम दिग्गज नेता के साथ प्रदेश प्रभारी अनिल जैन, राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री सौदान सिंह, संगठन मंत्री पवन साय समेत तमाम नेता मौज़ूद रहें।

जब रमन ने लिया योगी से आशीर्वाद
नामांकन भरने से पहले छत्तीसगढ़ पहुंचे योगी आदित्यनाथ के पांव छुकर डॉ. रमन सिंह और उनके पुत्र अभिषेक सिंह ने मिशन 65 को सफल करने का आशीर्वाद लिया। वहीं डॉ. रमन सिंह ने कहा कि राजनांदगांव और प्रदेश की जनता का प्यार हमेशा से मिलताा रहा है और आगे भी मिलेगा। एक सवाल के जवाब में डॉ. सिंह ने दो टूक कहा कि इस बार भी हम पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएंगे और मिशन 65 का टारगेट पूरा करने में सफल होंगे।

 

संबंधित पोस्ट

राजनीति में एक और ठाकरे लॉन्च

उप्र से नड्डा की आज से होगी नई सियासी पारी की शुरुआत

अखिलेश सीएए पर बहस को तैयार, ‘डंके की चोट’ शब्द को लेकर तंज कसा

अरविंद केजरीवाल छह घंटे के लंबे इंतजार के बाद अपना पर्चा भरा

सीएए पर हिंसा के पीछे विपक्ष, वापस नहीं होगा कानून : शाह

मेरा मकसद भ्रष्टाचार को हराना, दिल्ली को आगे ले जाना है : केजरीवाल

राहुल ने अमीरों-गरीबों के बीच बढ़ती खाई पर मोदी को घेरा

आज दोपहर तक भाजपा को मिलेगा नया अध्यक्ष

मुख्यमंत्री उम्मीदवार को लेकर असमंजस में महागठबंधन

हिंदुत्व ताकतों से लड़ाई का नेतृत्व नहीं कर सकते राहुल : रामचंद्र गुहा

साई बाबा जन्मस्थल विवाद गहराया, रविवार से बंद रहेगा शिरडी

मोदी सरकार में शामिल हो सकते हैं कामत, दासगुप्ता