सोशेबाजी से सियासी किले फतह करने जुटें “राजनैतिक चाणक्य”

रायपुर। प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में सोशेबाज़ी के सहारे सियासी क़िला फतह करने की तैयारी में राजनैतिक पार्टियां जुटी हुई है। विधानसभा चुनाव में सोशेबाज़ी को हर राजनैतिक दल सबसे बड़ा हथियार बना रही है। सोशल मीडिया में हर तरह के इमेज़, वीडिओं और मैटर अपलोड करने के साथ ही साथ सरकार की पोल खोलने का अभियान भी विपक्षीय दल बड़ी तेज़ी से कर रहे है। वही सरकार भी अपनी विकासगाथा फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सअप के ज़रिए जनता तक सीधे पंहुचा रही है। सोशल प्लेटफॉर्म के ज़रिए भाजपा, कांग्रेस, जनता कांग्रेस और आम आदमी पार्टी अपनी ज़मीन युवाओं के बिच टटोल रही है। निर्वाचन आयोग के आंकड़ों के मुताबिक़ साल 2018 के चुनाव के लिए प्रदेश में तक़रीबन 1 लाख 20 हज़ार ने मतदाता जुड़े है। इन नए मतदाओं को रीझाने और इन तक पहुंचने का सबसे आसान तरीका सोशल प्लेटफार्म है। फेसबुक, व्हाट्सअप, ट्विट्टर, यूट्यूब जैसे तमाम प्लेटफॉर्म में राजनैतिक दल में छिड़ी दंगल में भी युवाओं और यूथ के सॉफ्टकॉर्नर वाले मुद्दों को ज्यादा तरजीह दी जा रही है, जिससे उन्हें सीधे अपने साथ जोड़ा जा सके। इसके लिए सभी दलों ने अपने आईटी सेल की मज़बूती पर भी काम किया है। भाजपा, कांग्रेस, जनता कांग्रेस और आम आदमी पार्टी की आईटी विंग में अब तक कई खेप की ट्रेनिंग हो चुकी है, जिसमे दिल्ली के धुरंधरों ने सोशल मीडिया में अटैक और डिफेन्सीव चलने की तरकीबे बताई है।

त्रिपुरा की तकनीक अपना रही भाजपा
देशभर में सबसे बड़ी राजनैतिक पार्टी बन कर उभरी भाजपा के लिए सोशल मीडिया 2015 के लोकसभा चुनाव में कारगर हथियार साबित हुआ था। लिहाज़ा उसे हर विधानसभा चुनाव और 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए भी भाजपा मज़बूती से उपयोग कर रही है। पार्टी सूत्रों की मानें तो भाजपा
इधर कांग्रेस भी अपनी सोशल मीडिया की टीम की दर्जनों बैठक लेकर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने कई मुद्दे और टिप्स लगातार दे रही है।

ख़ालिस आरोप नहीं दस्तावेज़ भी जारी कर रही कांग्रेस
इधर कांग्रेस भाजपा सरकार पर आरोपों के साथ दस्तावेज़ भी सोशल मीडिया पर वायरल कर रही है। विकास खोजो यात्रा के दौरान कांग्रेस की सोशल मीडिया की टीम ने अधूरे विकास और जनता की जरूरतों के मुद्दों पर भरपूर तस्वीर लोगो के बयान वाले वीडियों भी ज़ारी कर रही है।

छत्तीसगढ़ियों की बात कर रही जनता कांग्रेस
इधर जनता कांग्रेस जोगी के सुप्रीमों अजीत जोगी से लेकर पार्टी संगठन के कार्यकर्ताओं तक के सोशल खातों में छत्तीसगढ़ियों के हिट की बात को प्रमुख्यता से उठाया जा रह अहइ। इसके आलावा जनता कांग्रेस सोशेबाज़ी से भाजपा सरकार पर सीधे हमला कर रही है। जोगी कांग्रेस द्वारा सोशल मीडिया से सुझाव और समर्थन जैसे कैम्पेन के आलावा यूथ बेस्ड कार्यक्रम पर फोकस होकर काम कर रही है।

संबंधित पोस्ट

ओपी धनखड़ को प्रदेश अध्यक्ष बनाकर भाजपा ने हरियाणा में चलाया जाट कार्ड

भाजपा के संसदीय बोर्ड में खाली 4 पदों पर टिकीं निगाहें, कई नामों पर चर्चा

मरवाही में हमारी स्थिति मजबूत, उप चुनाव में जीत हमारी- भूपेश बघेल

जगन्नाथ पुरी रथयात्रा पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से बीजेपी ने क्यों ली राहत की सांस?

मप्र उपचुनाव में ‘दगाबाजी’ और ‘दलित उपेक्षा’ को मुद्दा बनाने की कोशिश

मप्र में भाजपा विधायक कोरोना पॉजिटिव, सियासत में उबाल

राजनांदगावः भाजपा छोडऩे के बाद गोस्वामी ने रमन को लिया आड़े हाथ

राजनांदगांवः राहुल के जन्मदिन पर बेसहारा बुजुर्गों के बीच पहुंचे कांग्रेसी

भाजपा की नई टीम का एलान जल्द, नए चेहरों को मिल सकता है मौका

मप्र विस उपचुनाव में भाजपा कमल नाथ के छिंदवाड़ा प्रेम को मुद्दा बनाने की तैयारी में

फेसबुक पर चिरमिरी ब्लाक कांग्रेस सचिव की महिलाओं पर अश्लील टिप्पणी से बवाल

सुशांत सिंह राजपूत के वे सपने जो अपने हाथों लिखकर रखे थे