चुनाव आयोग ने ममता को चोट लगने पर विस्तृत रिपोर्ट मांगी, भाजपा ने कहा-‘ड्रामा’

कोलकाता | चुनाव आयोग (ईसी) ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव और राज्य के विशेष पर्यवेक्षकों अजय नायक और विवेक दुबे से उस घटना के संबंध में विस्तृत जानकारी मांगी है, जिसमें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को पैर में चोटें आई हैं।

ममता को पूर्वी मिदनापुर के नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान चोट लगी। पुलिस सूत्रों ने कहा कि इस बीच, पश्चिम बंगाल के पुलिस महानिदेशक पी. निरजनारायण ने मुख्यमंत्री की चोट पर पूर्वी मिदनापुर के पुलिस अधीक्षक से रिपोर्ट भी मांगी। यह भी देखा जा रहा है कि क्या सुरक्षा चूक थी।

ममता ने कहा, “मैं अपनी कार के बाहर दरवाजा खोलकर खड़ी थी। मैं प्रार्थना करने के लिए एक स्थानीय मंदिर में जाने वाली थी। कुछ लोगों ने अचानक आकर कार के दरवाजे को धक्का दिया, जिससे मेरे पैर में चोट आई।”

वहीं, बैरकपुर से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के लोकसभा सांसद अर्जुन सिंह ने कहा कि ममता झूठ बोल रही हैं और उनका ड्रामा ध्यान आकर्षित करने और जनता की सहानुभूति हासिल करने के लिए लक्षित था।

सिंह ने कहा, “वह हर बार जनता की सहानुभूति पाने के लिए ऐसा करती हैं। यह कुछ और नहीं, बल्कि उसका नाटक है।”

–आईएएनएस

Kolkata: Mamata Banerjee received leg injuries while campaigning in East Midnapore's Nandigram on Mar 10, 2021  (Photo: IANS)

संबंधित पोस्ट

भाजपा में संगठनात्मक नियुक्ति की डेड लाइन पर कांग्रेस ने साधा निशाना

Video:पीएम मोदी के 7 साल के कार्यकाल पूरा होने पर भाजपा चलाएगा अभियान

Video:मंत्रियों ने भाजपा को दी नसीहत,कांग्रेस का भाजपा से पांच सवाल

मुख्यमंत्री ममता के बाद 43 मंत्रियों ने ली शपथ, 24 कैबिनेट मंत्री , 17 नए चेहरे  

भाजपा बंगाल में हिंदू वोटों को मजबूत करने में क्यों विफल रही

बंगाल भाजपा के नेता का चुनाव करने के लिए 2 केंद्रीय पर्यवेक्षक नियुक्त

कोरोना महामारी ने 23 करोड़ भारतीयों को गरीबी में धकेला-रिपोर्ट 

सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से कहा, मीडिया के खिलाफ शिकायत करना बंद करें

उत्तर प्रदेश: पंचायत चुनाव में बीजेपी, सपा दोनों ने किया जीत का दावा

भाजपा को ममता को कम नहीं आंकना चाहिए था’ : चंद्र कुमार बोस

पश्चिम बंगाल में ‘दीदी’ की वापसी के संकेत : सर्वे

Assembly Election:चुनाव आयोग ने खुद ही कराई अपनी किरकिरी