नर्स हड़ताल-पुलिस की बर्बरता पर कांग्रेस का तंज़ “तानाशाह” भाजपा सरकार


रायपुर। नर्सों की हुई गिरफ्तारी के साथ ही प्रदेश की सियासत गरमा गई है। कांग्रेस ने नर्सों की गिरफ्तारी को अब मुद्दा बनाते हुए सरकार पर हमला बोला है।
नर्सो की हड़ताल तोड़वाने के लिये सरकार द्वारा करवाई गयी पुलिस बर्बरता की कांग्रेस ने कड़ी निंदा की है। प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा है कि पखवाड़े भर से अधिक समय से नर्से अपनी जायज मांगों को लेकर आंदोलनरत है। नर्सो की हड़ताल की वजह से स्वास्थ्य सेवायें भी बुरी तरह प्रभावित है। भाजपा सरकार और स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह अकर्मण्य बना हुआ है। सरकार को न तो मरीजों की फिक्र है और न ही नर्सो की। नर्सो द्वारा की जा रही मांग ऐसी नहीं है कि उसका समाधान न किया जा सके, लेकिन भाजपा सरकार में समस्या के समाधान की इच्छाशक्ति नहीं बची है। पुलिसिया दमन, बर्बरतापूर्वक दौड़ा-दौड़ा कर नर्सो की गिरफ्तारी कर जबरिया हड़ताल तोड़वाने की कोशिश भाजपा सरकार की तानाशाही पूर्वक रवैया है। हड़ताली नर्से भी छत्तीसगढ़ की बेटियां है। उनकी पारिवारिक आर्थिक और सामाजिक पृष्ठ भूमि भी छत्तीसगढ़ की है। इन नर्सो के मन में छत्तीसगढ़ के लोगों, मरीजों के प्रति पीड़ा और सेवाभाव सरकार में बैठे हुये लोगों से अधिक है। कांग्रेस पार्टी मांग करती है कि नर्सो के साथ हड़ताल समाप्त करवाई जाय ताकि प्रदेश की बदहाल पड़ी स्वास्थ्य सुविधायें बहाल हो सके।

संबंधित पोस्ट

UPSC : रेलवे के लिए आयुष मंत्रालय कर रहा है विभिन्न पदों की भर्ती

भारी जल बोर्ड भर्ती 2020:स्टाइपेंडरी ट्रेनी और तकनीकी अधिकारी पदों के लिए आवेदन

Assistant Professor : हरियाणा में जल्द होगी 2,592 पदों पर भर्ती

CTET Exam 2020 : आज से शुरू हुई आवेदन प्रक्रिया

AP Government Job : ग्राम / वार्ड सचिवालय के 15 हज़ार पदों पर भर्ती

भारतीय सेना : JAG ब्रांच के लिए 13 फरवरी तक करें आवेदन

Indian Railway : अप्रेंटिस के लिए आवेदन का आज अंतिम दिन

CGPSC Result 2018 : अंतिम परिणाम ज़ारी, अनिता बनी टॉपर

इस साल बेरोजगारों की संख्या में 25 लाख का होगा इजाफा : आईएलओ

RBI Recruitment : 24 जनवरी तक बढ़ी सहायक भर्ती की तारीख

Indian Railway : समर इंटर्नशिप प्रोग्राम के लिए करें आवेदन

परीक्षा पे चर्चा में बोले मोदी, “सिर्फ परीक्षा के अंक जिंदगी नहीं”