पीलिया ने ली एक और जान, आधा दर्जन पार हुआ मौत का आंकड़ा


रायपुर। पीलिया का प्रकोप राजधानी में लगातार बढ़ता ही जा रहा है। राजधानी के पीलिया प्रभावित इलाके मोवा के काँपा निवासी महेश मानिकपुरी की मौत हो गई। महेश पिछले कई दिनों से पीलिया से ग्रसित था। महेश की मौत के साथ ही पीलिया से मरने वालों का सरकारी आंकड़ा दो महीनों में आधा दर्जन पहुंच चूका है। ऐसे में प्रशासनिक अमले की स्तिथि नियंत्रण करने के सारे दावे खोखले साबित हो रहे है। लगातार हो रहे मौतों के बाद भी प्रशासन पाइप-लाइन बदलने में सुस्ती दिखा रहा है, चूंकि इस प्रकोप का सबसे बड़ा कारण दूषित पेयजल को ही माना जा रहा है। इधर, सफाई व्यवस्था भी पूर्व की तरह ही है, निगम के दावे के अनुरुप सडकों पर नजर नहीं आ रही हैं। स्थानीय निवासियों ने बताया कि मोवा में दूषित पानी की सप्लाई होने की वजह से पीलिया का प्रकोप फैल रहा है।बावजूद उसके अब तक पिने का साफ़ पानी निगम मुहैय्या नहीं करा पा रही है। मोवा इलाके शामे रामनगर, गुढ़ियारी इलाके में भी पीलिया दूषित पानी पीने से लोग पीलिया की चपेट में आ रहे हैं।