“शक्ति” से जुड़ेंगे कांग्रेस के कार्यकर्ता, राहुल तक पहुंचेगी बात


रायपुर। हमेशा से खेमेबाज़ी और एकला चलो वाली कांग्रेस के संगठन को मज़बूत करने एआईसीसी ने “प्रोजेक्ट शक्ति” लांच किया है। इस प्रोजेक्ट के ज़रिए सभी ब्लॉक और जिला लेवल के पदाधिकारियों को प्रदेश नेतृत्व से जोडा जाएगा। जमीनी कार्यकर्ताओं को पार्टी की गतिविधियों और राहुल गांधी से सीधा जोड़ने के लिए कांग्रेस ने एक अभियान की शुरूआत कर दिया है। इसके जरिए पार्टी कार्यकर्ता एक खास नम्बर पर अपने वोटर कार्ड से सीधे रजिस्ट्रेशन करा सकेगें। प्रोजेक्ट शक्ति लांचिंग प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने कांग्रेस के जिला अध्यक्षों और ब्लॉक अध्यक्षों की बैठक के दौरान की। बैठक में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, नेता-प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव, प्रभारी सचिव अरुण उराव और चंदन यादव भी मौजूद रहे।
आपको बता दें कि राहुल गांधी ने बड़े नेताओं और कार्यकर्ताओं के बीच दीवार हटाने के लिए इस संबंध में पहल करने का ऐलान किया था। जिसकी शुरुआत छत्तीसगढ़ में हो गई है। पार्टी अब अपने छोटे से छोटे कार्यकर्ताओं को पार्टी की गतिविधियों से सीधा जोड़ने के लिए ‘प्रोजेक्ट शक्ति’ अभियान चलाएगी।

भूपेश टीएस ने कराया रजिस्ट्रेशन
शक्ति कार्यक्रम में प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल और नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने रजिस्ट्रेशन कराया।
इसके साथ शक्ति कार्यक्रम को राज्य में लॉन्च कर दिया गया। इसके जरिए वोटर आईडी के जरिए कार्यकर्ता सीधे अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी से जुड़ जाएंगे और अपने सुझाव सीधे दे सकते हैं।