विधानसभा छेड़छाड़ : “एक भईया” की तलाश में जुटी पुलिस


रायपुर। विधानसभा थाना क्षेत्र में हुई 7 साल की मासूम बच्ची से छेड़छाड़ के मामलें में पुलिस “एक भईया ” की तलाश में जुटी है। पुलिस के सामने सबसे बड़ा सवाल है कि ये “एक भईया” कौन है ? उसी स्कूल का कोई छात्र ? स्कुल का लेबर स्टॉफ ? कोई शिक्षक या फिर कोई और ? छेड़छाड़ की घटना में देररात अपराध दर्ज़ करने के बाद आज स्कुल में पुलिस पूछताछ करने पहुंची थी। स्कुल में पुलिस ने जहाना प्रिंसिपल समेत दर्जनभर स्टाफ का बयान दर्ज़ किया है। वही पुलिस ने बच्ची का भी बयान लिया। बच्ची घटना के बाद से बहोत डरी सहमी है। बच्ची के मन में डर इस कदर घर क्र गया है कि वो हर सवाल के जवाब में केवल यही कह रही है वहां एक भईया आए थे… !
मामलें में संज्ञान लेते हुये बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष प्रभा दुबे भी स्कुल पहुंची। उन्होंने ने भी बच्ची से बयान लिया। मीडिया से बातचीत में आयोग की अध्यक्ष प्रभा दुबे ने इस पूरे मामले में स्कूल प्रबंधन की भूमिका को संदेहास्पद बताया है। उन्होंने बताया कि स्कूल प्रबंधन ने घटना दिनांक को बच्ची का अंडर गारमेंट रख लिया था और पूछे जाने पर प्रबंधन ने बताया कि उसे जला दिया गया है। दुबे ने बताया कि बच्ची से पूछताछ उन्होंने की है लेकिन वो डरी और सहमी हुई सी है, इस वजह से वह घटना के बारे में ठीक से कुछ भी नहीं कह पा रही है। उधर इस मामले में स्कूल प्रबंधन की ओर से वाइस प्रिंसिपल अलेक्स ने स्कूल में घटना होने से इंकार किया है और बच्ची के अंडर गारमेंट को जलाने के मामले में सफाई देते हुए कहा कि बच्ची ने टॉयलेट की थी। टॉयलेट करने की वजह से अंडरगारमेंट गंदा हो गया था, इस वजह से उसे जला दिया गया है।

जप्त किया डीवीआर
इधर पुलिस ने प्रिंसिपल समेत दर्जनभर स्टाफ़ का बयान लेने के बाद पुलिस ने स्कुल में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगाले है। वही पुलिस ने कैमरे का डीवीआर भी जप्त कर अपने कब्ज़े में ले लिया है ताकी फुटेज से कोई छेडछाड नहीं की जा सके।