मध्यप्रदेश के बाद छत्तीसगढ़ में भी उजागर हुआ हनी ट्रैप मामला

रायपुर में गिरफ्तार हुई एक महिला आरोपी

रायपुर | मध्यप्रदेश के हनी ट्रैप का मामला शांत नहीं हुआ था कि तभी छत्तीसगढ़ में भी हनीट्रैप का एक नया मामला सामने आया है।आरोपी का नाम प्रीति तिवारी बताया जा रहा है। गुरुवार को पंडरी थाना के पुलिस ने आरोपी को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार आरोपी प्रीति तिवारी रायपुर के व्यापारी चेतन शाह को पिछले कई महीनों से अपने जाल में फंसा कर लगभग 1 करोड़ 38 लाख रुपए से ज्यादा की वसूली अब तक कर चुकी है। इसके बाद भी प्रीति तिवारी का पैसे मांगने का सिलसिला लगातार जारी था। इधर मामला थाने में आने के बाद पुलिस ने अपने प्लान के अनुसार कारोबारी को प्रीति तिवारी द्वारा मांगे गए रु.50 हजार देने के लिए भेजा। जहां पुलिस ने आरोपी प्रीति तिवारी को रंगे हाथों 50 हजार रुपए लेते गिरफ्तार किया है।

कारोबारी को मोह जाल में फंसाया
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक व्यापारी चेतन शाह ने पंडरी थाने में इसकी शिकायत दर्ज कराई थी। साथ ही व्यापारी चेतन शाह ने पुलिस को बताया था कि आरोपी प्रीति तिवारी से उसकी दोस्ती फेसबुक के जरिए हुई थी। बताया जा रहा है कि प्रीति तिवारी रायपुर के खम्हारडीह क्षेत्र में आलीशान बंगले में किराए पर रहती है। स्ट्रेप मामले में आरोपी ने अपने मंगेतर को भी साथ में रखा था। जिसका नाम रिंकू शर्मा के रूप में पहचान की जा रही है। हालांकि यह भी बताया जा रहा है कि रिंकू शर्मा के साथ चार और लोग भी इस मामले में शामिल थे जो अब तक पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं।

बड़े खुलासे के हैं आसार
थाने में मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने कड़ाई से जब पूछताछ प्रीति तिवारी से की तो बहुत से मामले के खुलासे के संभावना पुलिस जता रही है। जिसमें हनी ट्रैप गैंग की इस युवती का भोपाल और दिल्ली से भी लिंक होने का अंदेशा लगाया जा रहा है। पुलिस आरोपी से कड़ाई से पूछताछ कर रही है। जहां तक आज शाम तक कुछ बड़े खुलासे के आसार नजर आ रहे हैं। पुलिस अभी कुछ बताने में पीछे हट रही है। मन जा रहा है की प्रीति के तार भी रसूखदारों से जुड़े हो सकते हैं।

बताया जा रहा है कि प्रीति मूल रुप से मप्र की निवासी है। उसने बिलासपुर में बीडीएस की पढ़ाई अधूरी छोड़ दी और फिर परिवार समेत रायपुर में रहने लगी।