EXCLUSIVE-अजय चंद्राकर के बयान पर बिफ़रे सिंहदेव, कहा-खोखली विचार वाली पार्टी है भाजपा

अजय चंद्राकर ने कहा- उनके पास नहीं है मुख्यमंत्री का एक चेहरा

रायपुर। स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर के मुख्यमंत्री के एक ही चेहरे वाले बयान पर अब सियासी तलवारें खींच गई है। पहले तो मामला भाजपा में ही गरमाया फिर कांग्रेस भी सियासी मैदान में कूद पड़ी।
दरअसल इंडोर स्टेडियम में रोजगार सहायकों के महासम्मेलन में स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री अजय चंद्राकर ने पुरे जोशोखरोश से भाजपा सरकार की तारीफ की। चंद्राकर ने न केवल सरकार की तारीफ़ की बल्कि मुख्यमंत्री के तारीफों के पुल बांधते चले गए। चंद्राकर ने इसी दौरान अपने चित परिचित अंदाज़ में कांग्रेस पर भी निशाना साधा।

अजय चंद्राकर

उन्होंने बगैर कांग्रेस पार्टी का नाम लिए कहा कि ” छत्तीसगढ़ में एक पार्टी ऐसी है, जो बिना मुख्यमंत्री के चेहरे के चुनाव लड़ रही है। पंचायत मंत्री ने प्रदेश में नक्सलवाद के लिए भी कांग्रेस को ही जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि नक्सल वाद सहित छत्तीसगढ़ की सारी समस्याओं के लिए वो ही जिम्मेदार है। ”
नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव

मंत्री अजय चंद्राकर के बयान पर कांग्रेस की तरफ से नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने हमला बोला है। ” सिंहदेव ने कहा कि मुख्यमंत्री का चेहरा कांग्रेस के पास नहीं होना ये भाजपा का एक खोखला विचार है। उन्होंने कहा कि भाजपा की दयनीय स्तिथि है कि उनके पास सिर्फ एक चेहरा है, जबकि कांग्रेस के कई चेहरे है। सिंहदेव ने तंज़ कस्ते हुए कहा कि ये केवल भाजपा का खोखला विचार है। जिसके पास सिर्फ एक विकल्प है और जिनके पास कई विकल्प है वो उन्हें कमज़ोर नज़र आ रहा है।

पढ़े : रमन सिंह बोले-करेंगे राहुल गाँधी के स्कील अपग्रेडेशन की सिफ़ारिश

ये उनकी दयनीय स्तिथि है कि उनके पास केवल एक ही व्यक्ति है। विपक्ष के बगैर सीएम कैंडिडेट के सवाल पर सिंहदेव ने कहा कि मुख्यमंत्री 2003 में क्या कर रहे थे ? उनकी क्या स्तिथि थी ? उत्तरप्रदेश में उनकी पार्टी की क्या स्तिथि थी। हिमाचल में सीएम का चेहरा दिया जिसे जनता ने खारिज किया। तो कौन सी बात वो कह रहे है। ”

भाजपा में भी मची ख़लबली
मंत्री अजय चंद्राकर ने कांग्रेस के पास छत्तीसगढ़ में बतौर मुख्यमंत्री एक भी चेहरा नहीं होने की बात तो कही ही। इसके साथ ही उन्हों ने मुख्यमंत्री के तौर पर प्रदेशभर में केवल डॉ रमन सिंह अकेला चेहरा ही बता कर भाजपा में भी हड़कंप मचा दिया। अब भाजपा में मुख्यमंत्री बनने का खाव्वाब देखने वाले नेताओं के मन में भी चंद्राकर का ये बयान टीस मर रहा है। हालाँकि भाजपा की तरफ से भी संगठन के नेता अब भी मुख्यमंत्री के लिए डॉ रमन के नाम को आगे कर रहे।

 

संबंधित पोस्ट

एमपी पीएससी परीक्षा में विवादित सवाल पूछने वाले पर कार्रवाई होगी : कमलनाथ

संविधान को पाठ्यक्रम में शामिल करने पर 3 महीने में फैसला ले केंद्र : सुप्रीम कोर्ट

नीतीश के नेतृत्व में बिहार चुनाव लड़ेगा राजग : शाह

भाजपा का हल्ला बोल, रमन बोले “गंगाजल की कसम भी भूल गए”

शराब लॉबी से कांग्रेस ले रही करोड़ो का चंदा – भाजपा

रायपुर से कांग्रेसियों ने निकाली घोटाले की बारात

भाजपा-कांग्रेस में प्रत्याशी तय होने के बाद जीत के दावों का दौर शुरू

पश्चिम बंगाल को संवेदनशील राज्य घोषित करने भाजपा ने रखी मांग

जब सदन में अजीत जोगी ने कहा – शराब ने छीन लिया मेरा दोस्त…

भूपेश बघेल ने घटाई अपनी सुरक्षा, कारकेड की गाड़ियां भी की कम

पीएल पुनिया के बंद लिफाफे में क़ैद है ” छत्तीसगढ़ का सीएम “

15 दिसंबर को मुख्यमंत्री का शपथ ग्रहण, आ सकते है राहुल गांधी