आख़िर क्यों कहा अजीत जोगी ने कहा ” रेणु है आज़ाद…”

अजीत जोगी ने कहा-रेणु के खिलाफ भी उतारेंगे प्रत्याशी

रायपुर। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस सुप्रीमों अजीत जोगी ने एक बार फिर अपनी धर्मपत्नी को लेकर बयान दिया है। अजीत जोगी ने रेणु जोगी के पार्टी की तरफ से चुनाव लड़ने के सवाल पर कहा है कि वो आजाद है ! और हमने उनके फैसले पर छोड़ दिया है। वहीं अजित जोगी ने इस बात से पहले ही पर्दा उठा दिया था के वे उनके खिलाफ भी चुनावी मैदान में अपना प्रत्याशी उतारेंगे। दरअसल पत्रकारवार्ता को संबोधित कार रहे छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस सुप्रीमों अजीत जोगी से इस संबंध में सवाल दागा गया था, जिसका जवाब देते हुए उन्होंने ये सारी बाते कही। अजीत जोगी ने कहा कि अब तक मैं सैंकड़ों हजारों को मनाने में सफल रहा। मग़र एक को नहीं मना पाया, ख़ैर कोई बड़ी बात नहीं है।

Ajit jogi

नहीं होगा भाजपा कांग्रेस से गठबंधन
वहीं जोगी ने किसी राष्ट्रीय दल से गठबंधन को लेकर भी अपना रुख साफ़ किया है। उन्होंने राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में गठबंधन को लेकर भी कहा कि कांग्रेस से गठबंधन करना तो संभव ही नहीं है। वहीं 15 साल से सरकार चला रही भाजपा से गठबंधन रास्ते भी जोगी ने अपनी तरफ से बंद कर रखे है।

मेरे कार्यकाल में जो हुआ वो आज तक नहीं-जोगी
कारोबारियों से मेल मिलाप के दौरान सोमवार को दिए पीसीसी चीफ भूपेश बघेल के बयान पर भी जोगी ने कटाक्ष किया है। जोगी ने कहा कि मेरे समय में व्यापारी वर्ग का जो विकास हुआ वो आज तक नहीं हो पाया है। उन्होंने चुटीले अंदाज़ में कहा कि लोग दुष्प्रचार और अफवाह से सावधान रहें ! मेरे जमाने मे व्यापारियों ने जितनी प्रगति की है, उतनी अब तक नहीं हुई। उस समय धान की मिले बंद हो चुकी थी, मेरी सरकार की नीतियोन की वजह से 700 धान मिल की जगह आज 1600 धान मिले चल रही है। स्टील उद्योग में नई क्रांति आई थी, खास कर तब जब बिजली के दाम कम हुए थे।