सुनील के बाद अब ” रमन के अमन ” ने भी दिया इस्तीफ़ा

मुख्यमंत्री के निजी सचिव रहे है अमन सिंह

रायपुर। भाजपा सरकार के जाते ही अब अफसरों में भी इस्तीफे का दौर शुरू हो चुका है। प्रदेश ही नहीं बल्कि देश में सबसे पावरफुल नौकरशाहों में से एक अमन सिंह ने आज अपना इस्तीफा सौंपा है। पॉलीटिकल रिक्रूटमेंट होने की वज़ह से मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह के मुख्य सचिव रहे अमन सिंह ने अपना इस्तीफा दिया है।

अमन सिंह

मतगणना से पहले ही योजना आयोग के चेयरमेन और मुख्यमंत्री के सलाहकार के रूप में नियुक्त सुनील कुमार ने अपना इस्तीफ़ा सौपा था। अब भारतीय जनता पार्टी की हार के बाद अमन सिंह में बुधवार को अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री के नाम सौंपा है। गौरतलब है कि बीते 15 सालों में अमन सिंह लगातार मुख्यमंत्री सचिवालय की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। इसके साथ ही अमन सिंह को पर्यावरण संरक्षण मंडल का चेयरमैन भी रहे है। जिसके बाद से लगातार छत्तीसगढ़ में हो रहे प्रदूषण में कमी आई है। अमन सिंह ने जहां प्रदूषण रोकने को लेकर कई अहम फैसले लिए, वहीं संचार क्रांति जैसी महत्वाकांक्षी योजनाओं का जमीनी क्रियान्वयन भी करने की पूरी प्लानिंग भी की। अमन सिंह के पास इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी जैसे महत्वपूर्ण विभाग भी थे।