विधानसभा उपचुनाव : दंतेवाड़ा की तारीख का ऐलान, लिस्ट में नहीं चित्रकोट

चित्रकूट विधानसभा का ऐलान नहीं होने पर सीएम भूपेश जताया आश्चर्य

रायपुर। छत्तीसगढ़ सहित चार राज्यों में विधानसभा उपचुनाव को लेकर तारीखों का ऐलान कर दिया गया है। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा विधानसभा उपचुनाव को लेकर चुनाव आयोग ने तारीखों का ऐलान किया है। दंतेवाड़ा सीट के लिए 23 सितंबर को वोट डाले जाएंगे। जिसकी मतगणना 27 सितंबर को की जाएगी। सूबे में होने वाले इस उप चुनाव के लिए इसी महीने 28 अगस्त को अधिसूचना जारी की जाएगी।     

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा ज़ारी चुनावी कार्यक्रम के मुताबिक 4 सितंबर तक दंतेवाड़ा विधानसभा के लिए प्रत्यशी अपना नामांकन दाखिल कर सकते है। वहीं 5 सितंबर से प्रत्यशियों के नामांकन की स्क्रूटनी शुरू होगी जो 6 सितंबर को भी जारी रहेगी। 6 तारीख को स्क्रूटनी पूरी होने के बाद 7 सितंबर को चुनाव मैदान में हिस्सा नहीं लेने वाले प्रत्याशी अपना नामांकन वापस ले सकेंगे।

                      जिसके बाद प्रचार प्रसार के साथ 23 सितंबर को दंतेवाड़ा की विधानसभा सीट पर मतदाता अपना विधायक चुन पाएंगे। गौरतलब है कि दंतेवाड़ा विधानसभा सीट से बीजेपी के प्रत्यशी भीमा मंडावी ने कांग्रेस की प्रत्याशी देवती कर्मा को विशानसभा चुनाव 2018 में परास्त कर विधायक निर्वाचित हुए थे। लोकसभा चुनाव के प्रचार के लिए निकले विधायक भीमा मण्डावी की नक्सलियों ने निर्ममता से हत्या कर दी थी। जिसके बाद यह विधानसभा सीट खाली हो गई थी। जिसमे अब चुनाव आयोग की तरफ से उपचुनाव का ऐलान किया गया है।

चित्रकूट विधानसभा चुनाव की तारीख नहीं
दंतेवाड़ा के आलावा सूबे में चित्रकोट विधानसभा में भी उपचुनाव होने थे। चित्रकोट विधानसभा से निर्वाचित दीपक ने बैज ने 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में बस्तर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा था। जिसमें उन्होंने भारी बहुमत से जीत दर्ज़ की थी। जिसके बाद उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष के नाम प्रदेश की विधानसभा से अपना इस्तीफा भेजा था जिसे अध्यक्ष ने स्वीकार कर लिया था। ऐसे में चित्रकोट में उपचुनाव का ऐलान नहीं होने से सियासी खलबली मची हुई है। सीएम भूपेश ने इस मसले पर मीडिया से बातचीत में कहा कि दंतेवाड़ा और चित्रकूट में एक साथ विधानसभा का उपचुनाव कराया जाना था, लेकिन आश्चर्य की बात है कि सिर्फ दंतेवाड़ा के लिए उपचुनाव की तारीख का ऐलान किया गया।