नागपुर में भूपेश ने पीएम मोदी और सीएम फडणवीस पर साधा निशाना

कहा-सरकार न बनने पर महाराष्ट्र को भी बना देंगे यूनियन टेरेटरी

रायपुर। हरियाणा और महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होगा। जिसके लिए राजनितिक दलों ने अपने-अपने स्टार प्रचारकों की सूचि जारी कर दी है। जिसमे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को महाराष्ट्र चुनाव के लिए स्टार प्रचारक बनाया गया है। जिसके लिए सीएम भूपेश सोमवार को विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए महाराष्ट्र रवाना हो गए।
सीएम बघेल छत्तीसगढ़ से सटे महाराष्ट्र के नागपुर जिले में तीन सभाएं लेंगे। इस दौरान वे तीन दिनों तक नागपुर के मतदाताओं को कांग्रेस के द्वारा किये गए कार्यों को बताएँगे। साथ ही महाराष्ट्र में पिछले पांच सालो से फडणवीस सरकार के कमियों को भी आम जनता के सामने रखेंगे।नागपुर दक्षिण से महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस चुनाव लड़ रहे हैं। ऐसे में भूपेश की सबसे ज्यादा सभाएं भी दक्षिण नागपुर में राखी गयी है। नागपुर पहुँचते ही भूपेश ने पीएम मोदी और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पर जमकर बरसे। भूपेश ने कहा की मोदी का बीएस चले तो महाराष्ट्र में जीत न होने पर इस राज्य को भी केंद्रशासित प्रदेश बना देंगे। भूपेश अनुच्छेद 370 पर चर्चा कर रहे थे। बघेल मीडिया से चर्चा के दौरान काफी आक्रामक नजर आये। उन्होंने प्रधानमंत्री को आड़े हाथो लेते हुए कहा की अब तक पुलवामा हमले की जांच भी नहीं करा पाए। भूपेश ने पीएम से फिर पूछा की वे बताएं की वहां 250-300 किलाे आरडीएक्स कैसे आ गया। सीएम बघेल तीन दिन के नागपुर दौरे के बाद एक दिन के लिए हरियाणा और उत्तरप्रदेश के चुनावी दौरे में भी शामिल होंगे।

भूपेश का रमन पर तंज
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल नागपुर रवाना होने से पहले रायपुर एयरपोर्ट पर मीडिया से मुखातिब हुए। सीएम ने पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह पर उन्हें स्टार प्रचारक की सूचि में शामिल नहीं किये जाने पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि पूरा देश रमन की कारगुजारियों को जान चूका है कि गरीबों का चावल किसने चुराया और 36 हजार करोड़ का घोटाला किसने किया। भूपेश ने ये भी कहा की अब रमन सिंह को अपनी बखत समझ आने के बाद भाजपा से इस्तीफा दे देना चाहिए।

रमन सिंह का जुबानी वार
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान के बाद पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने जवाब दिया। उन्होंने कहा कि भूपेश की चरित्र हत्या करने की आदत हो गई है। प्रदेश की जनता को मालूम है की कौन झूठ का पुलिंदा बना रहा है। साड़ी जनता उनके साथ है इसलिए भूपेश के बयान का कोई असर नहीं पडेगा। साथ ही रमन ने कहा की चुनाव अभियान में जाना पार्टी तय करती हैऔर ये पार्टी का अंदरूनी मामला है। इसमें मुख्यमंत्री को चिंता करने की जरूरत नहीं है।