Big News : लखमा के बाद बोले CM भूपेश, नहीं होगा किसानों का क़र्ज़ माफ़…

भाजपा बोली - कांग्रेस की पुरानी नीति, ऋचा जोगी ने याद दिलाई क़सम

रायपुर। कर्ज माफी और 2500 समर्थन मूल्य का किसानों से वादा कर सत्ता में आने के बाद कांग्रेस की सरकार अब कर्ज माफी नहीं करेगी। ये बात खुद सूबे के मुखिया भूपेश बघेल ने स्पष्ट की है। इस बयान के बाद ही सूबे की सियासत में खलबली मची हुई है। भाजपा और जोगी कांग्रेस ने इस मामलें पर जमकर कांग्रेस सरकार के खिलाफ हमला बोला है।

दरअसल सबसे पहले आबकारी मंत्री और बस्तर के दिग्गज नेता कवासी लखमा ने इस बात को मीडिया के सामने रखा। मीडिया से चर्चा के दौरान धमतरी में कवासी लखमा ने यह बात कही के इस बार किसानों के कर्ज माफी को लेकर कोई भी फैसला सरकार नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि “हमें झूठ बोलना अच्छा नहीं लगता, कर्जा माफी एक बार हुआ, अब नहीं होगा। अगले साल कर्ज माफ नहीं होगा, लेकिन 25 सौ रुपए में धान खरीदी जरूर की जाएगी। भारतीय जनता पार्टी के जैसे चुनाव के समय बोनस और चुनाव के बाद कौन हस ऐसा नहीं होगा। लखमा ने कहा कि हमारे घोषणा पत्र में है 5 साल पूरे धान खरीदी के लिए 25 रुपए का बोनस देंगे।


इधर लखमा के बयान का समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी यह स्पष्ट किया कि कर्ज माफी की घोषणा उन्होंने केवल 1 साल के लिए ही की थी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने झारखंड, उत्तर प्रदेश और दिल्ली दौरे पर रवाना होने से पहले रायपुर के विवेकानंद एयरपोर्ट पर इस बात को स्पष्ट करते हुए कहा कि कांग्रेस ने कर्ज माफी का ऐलान केवल 1 साल के लिए किया था, लेकिन 25 सौ रुपए के समर्थन मूल्य पर धान खरीदी पूरे 5 सालों तक की जाएगी।

भाजपा बोली- यही कांग्रेस है की नीति
इधर कर्ज माफी को लेकर सुबह के मुखिया भूपेश बघेल और आबकारी मंत्री कावासी लखमा के बयान के बाद सियासी खलबली मची हुई है। भाजपा ने जहां इस मामले पर इसे कांग्रेस की पुरानी नीति बताया है। भाजपा प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने यह कहा कि कांग्रेस का आखिर दोहरा चरित्र सामने आ ही गया। आबकारी मंत्री ने कहा कि 25 सौ में धान खरीदी तो होगी लेकिन कर्ज माफी नहीं होगी। लोगों को भ्रम में रखकर सत्ता प्राप्त करना और उसके बाद लोगों को सत्ता से दूर करने का काम कांग्रेस लगातार करते आ रही है। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में कई बड़ी-बड़ी घोषणाएं की लेकिन सत्ता बनते ही इन सभी मामलों पर फिसड्डी साबित हो रही है। कर्ज माफी का आखिर क्या हुआ ? इस वर्ष कर्ज माफी क्यों नहीं ? कांग्रेस ने एक बार फिर किसानों को छल दिया है।

ऋचा जोगी ने याद दिलाई गंगाजल की कसम
इधर जनता कांग्रेस की नेत्री ऋचा जोगी ने भी इस मामलें पर ट्वीट कर कांग्रेस पर निशाना साधा है। ऋचा ने लिखा कि ” किसानों की हितैषी जैसे ढोंग रचने वाले @bhupeshbaghel जी की चाल चरित्र आज उजागर हो रहा है, #kawashilakhma जी आपको याद दिला दु की आप छः ग के कृषिमंत्री नही आबकारी मंत्री है और आपकी सरकार ने छत्तीसगढ़ में पूर्ण शराब बंदी के लिए हाथ मे गंगा जल लेकर कसम खाई थी, उसका क्या हुआ मंत्री जी। आपकी छःग कांग्रेस सरकार शराबबंदी के लिए एक कमेटी भी तैयार कर चुकी थी। जिसका रिपोर्ट अभी तक नही आया, पहले उस पर अपना ध्यान आकर्षित मंत्री जी किसानो के साथ छल कपट करना ये कांग्रेस पार्टी की बहुत पुरानी मानसिकता को दर्शाता है।”