भाजपा अध्यक्ष का सीएम पर राजनीतिक नौटंकी का आरोप

अफसरों व कर्मचारियों का राजनीतिकरण करना शर्मनाक-विक्रम उसेंडी

रायपुर। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर तंज कसा है। उसेंडी ने सरकारी अधिकारियों के राजनीतिकरण का आरोप लगाया है। उसेंडी ने कहा कि सरकार चलाने में बुरी तरह विफल सिध्द हो चुके मुख्यमंत्री अब नया प्रलाप कर रहे हैं।

प्रदेश में बिजली संकट के मद्देनजर मुख्यमंत्री बघेल द्वारा यह कहे जाने पर कि सिस्टम में घुसे भाजपा से प्रभावित अफसर गड़बड़ी कर रहे हैं, उसेंडी ने कहा कि ऐसा कहकर बघेल अफसरों व कर्मचारियों का राजनीतिकरण करने की शर्मनाक करतूत कर रहे हैं। सरकार उनकी है और प्रशासन को जनाभिमुख बनाने की जिम्मेदारी उनकी है। इस तरह की शर्मनाक टिप्पणियां करके मुख्यमंत्री अपनी जिम्मेदारी से भागने का काम कर रहे हैं। बिजली बिल हाफ का वादा करके कांग्रेस जब से प्रदेश में सत्तारूढ़ हुई है, बिजली की आपूर्ति ही गड़बड़ा गई है। बिजली आपूर्ति में लगातार कटौती के लिए जिम्मेदार अफसरों पर कार्रवाई करने के बजाय समूचे सिस्टम को राजनीति प्रेरित बताना यह साबित करता है कि मुख्यमंत्री बघेल को सरकार चलाने की समझ ही नहीं है और इसीलिए पांच माह में ही यह सरकार हर मोर्चे पर विफल सिध्द हुई है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष उसेंडी ने कहा कि प्रशासनिक आतंकवाद की तोहमत लगाकर पूर्ववर्ती भाजपा सरकार को कोसने वाले कांग्रेेस नेता घुड़सवारी का दंभ भरते फिर रहे थे पर अब वही दंभी नेता अनाड़ी घुड़सवारों की तरह मुंह के बल गिरकर फिसड्डी साबित हो रहे हैं। उसेंडी ने कहा कि बहानेबाजी की राजनीतिक नौटंकी के बजाय प्रदेश सरकार ईमानदारी से जनकल्याण और जन-सुविधाओं के मामले में संजीदा होकर काम करे।


विक्रम पर शैलेश का पलटवार, भाजपा ले रही है झूठ का सहारा
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेन्डी के बयान पर पलटवार करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाने के लिये भाजपा द्वारा लगातार झूठ का सहारा लिया जा रहा है। कन्यादान योजना और बिजली को लेकर भाजपा का यह झूठ लगातार उजागर हो रहा है। रमन सिंह सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार और कमीशनखोरी से सड़ चुके ऊर्जा विभाग की रमन सरकार को सुधारने की कांग्रेस सरकार में प्रभावी पहल हो रही है। प्रदेश में बिजली की कटौती बिल्कुल नहीं है। पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष लोड लगभग 20 प्रतिशत बढ़ा है जिसकी पूर्ति शत-प्रतिशत की जा रही है। रेगुलर मेन्टेनेन्स के लिये लाइन बंद होने की भाजपा का पावरकट का गलत नाम देकर प्रचार कर रही है। लोड बढ़ने के साथ ही सिस्टम उन्नयन का कार्य भाजपा सरकार में समय पर न होने के कारण ट्रिपींग बढ़ी, ट्रांसफारमर व कन्डक्टर्स में ख़राबियाँ आईं। तत्काल सुधार कार्य किये जा रहे हैं। बीस अप्रेल के बाद लगातार सूचना प्रकाशित कर लाईन व सिस्टम उन्नयन का कार्य किया जा रहा है। हर वर्ष के पहले प्री-मानसून मेंटेंनेस किया ही जाता है। आँधी तूफ़ान व बरसात के कारण बिजली सप्लाई प्रभावित होती है जिसे कटौती कह कर भाजपा गलत बयानी कर रही है।