दिल्ली दरबार मे तय होगा चित्रकोट के लिए प्रत्याशी का नाम

आलाकमान को तीन नामों की सूची पहले ही सौपी गई

रायपुर | भारत निर्वाचन आयोग ने छत्तीसगढ़ के चित्रकोट विधानसभा मे उप चुनाव की घोषणा कर दी है। जिसकी तैयारी पहले से ही कांग्रेस ने कर रखी है। 15 दिन पहले ही प्रदेश प्रभारी पी.एल.पुनिया के नेतृत्व में चुनाव समिति की बैठक कर ली गई थी। जिसमें पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम,मुख्यमंत्री भूपेश बघेल,प्रदेश सचिव चंदन यादव सहित कई वरिष्ठ नेता शामिल थे। समिति ने तीन नामों की सूची आलाकमान को भेजी है। जिस पर रायमशविरा कर अंतिम मुहर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा ही लगाया जाएगा।


भूपेश-मरकाम दिल्ली होंगे रवाना
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पीसीसी चीफ मोहन मरकाम बुधवार को चित्रकोट उपचुनाव मे प्रत्याशी का नाम फाइनल करने दिल्ली जा रहे है। जहां आलाकमान से मुलाकात के बाद नाम पर फैसला किया जाएगा। सूत्र बताते है कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से भेंट के पहले सीएम और पीसीसी अध्यक्ष अपने प्रदेश प्रभारी पी.एल.पुनिया से मुलाकात करेंगे। इसके बाद आलाकमान के सामने लिस्ट पर चर्चा होगी। प्रदेश कांग्रेस के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक चुनाव समिति की बैठक मे चित्रकोट प्रत्याशी चयन कर लिया गया था। लेकिन दंतेवाड़ा के मतगणना 27 सिंतंबर के बाद ही इससे पर्दा उठाने की बात कही जा रही है।

फेहरिस्त है लंबी
विधायक दीपक बैज के सांसद बन जाने के बाद चित्रकोट विधनसभा सीट खाली हुई। इधर उपचुनाव के आगाज के बाद से ही कांग्रेस मे प्रत्याशियों की लिस्ट मे कई नाम शामिल हो गए थे। टिकट के लिए 13 लोगों के नाम सामने आए हैं, जिनमें सांसद दीपक बैज की पत्नि पूनम बैज सबसे प्रबल दावेदार मानी जा रही है। लेकिन चित्रकोट क्षेत्र में अपनी खासी पैठ रखने वाले पूर्व सरपंच बलराम मौर्य ने भी दावेदारी कर मसले को पेचिदा बना दिया है। वहीं कुछ नामों को लेकर कार्यकर्ताओं में नाराजगी देखने को मिल रही है। ऐसे मे सारा दारोमदार कांग्रेस के आलामान पर निर्भर है कि चित्रकोट उपचुनाव मे किस नाम पर मुहर लगती है।