Big Breaking : वीवीपैट की पर्ची से मतगणना की याचिका में सुनवाई आज

कांग्रेस ने दायर की थी वीवीपैट मशीन से मतगणना के लिए याचिका

रायपुर / बिलासपुर। छत्तीसगढ़ में हुए दो चरणों के चुनाव के बाद मतगणना के लिए कांग्रेस लगातार वीवीपैट मशीन की परियों से मतगणना की मांग कर रही है। जिस को लेकर कांग्रेस ने कई दफे निर्वाचन आयोग और भारत निर्वाचन आयोग में भी अपनी यह मांग रखी है।

कांग्रेस लिस्ट

इसके बाद कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट में भी अपनी इस मांग को लेकर एक याचिका दायर की थी। याचिका में वीवीपीएटी मशीन पर्चियों से मतगणना के लिए हाई कोर्ट में अपील की थी। इस अपील पर हाईकोर्ट ने आज की तारीख मुकर्रर की है। महज़ कुछ देर बाद ही हाई कोर्ट में चीफ जस्टिस की बेंच में इस याचिका पर सुनवाई होनी है। जिसको लेकर कांग्रेस की तरफ से उनके वकील सतीश शर्मा ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं का कहना है कि उन्हें ईवीएम के मतदान के आंकड़े और जनसंपर्क विभाग द्वारा जारी मतदान के आंकड़ों की भिन्नता के बाद मतगणना को लेकर गड़बड़ी का संशय है। जिसका निराकरण के लिए उन्होंने वीवीपट मशीन के पर्चियों से मतगणना की मांग की है।

गड़बड़ी रोकने लगाया है तंबू
कांग्रेस के सभी प्रत्याशियों ने प्रदेश भर के स्ट्रांग रूम के बाहर तंबू लगाकर ईवीएम की सुरक्षा के लिए तैनात थे। कांग्रेसियों ने जगदलपुर, कोंडागांव समेत प्रदेश के कुल 4 स्ट्रांग रूम में लैपटॉप और संदिग्ध प्रवेश करने के मामलों को लेकर भी आपत्ति दर्ज़ कराई थी। जिस पर निर्वाचन आयोग ने सुरक्षा में तैनात जवान और जिम्मेदार अफसरों के निलंबन जैसी कार्यवाही भी की है। साथ ही उक्त शिकायतों पर ईवीएम से छेड़छाड़ जैसी शिकायतों पर जांच भी कराई है। हालांकि इस जांच के बाद ईवीएम में हुए मतदान को लेकर किसी भी तरह के छेड़छाड़ जैसी किसी भी बात को निर्वाचन आयोग ने नकारा है।