शुरू हुआ डायल 112 का डेमोस्ट्रेशन, जल्द शुरू होगी योजना

डायल 112 में पुलिस कंट्रोल रूम और फायर ब्रिगेड के फ़ोन रूट हुए डायवर्ट

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह की महत्वकांक्षी योजना ” डायल 112 ” जल्द ही शुरू हो जाएगा। इस प्रोजेक्ट के लाइव डेमोस्ट्रेशन की शुरुवात राजधानी में सोमवार से की गई। जिसमे रायपुर पुलिस को दी गई 52 नई चार पहिया गाड़ियां और 10 बाइक भी सडकों पर दौड़ेंगी।

Dail 112

डायल 112 में पुलिस, फायर और एम्बुलेंस सेवा उपलब्ध कराई जा रही। डायल 112 में किसी भी तरह की अप्रिय घटना के दौरान एक ही फोन काल से तत्काल सभी तरह की राहत मिल सकती है, योजना का मेन कॉन्सेप्ट ही यही है। डायल 112 के नोडल ऑफ़िसर एडीजी आर के विज़ ने इसके ट्रायल की शुरुवात की। उन्होंने पुलिस लाईन में सभी वाहनों चालक और उनके साथ रहने वाले ट्रेंड स्टाफ की ब्रीफिंग ली। ब्रीफिंग के बाद पुलिस लाइन से सभी गाड़ियां शहर के अलग अलग लोकेशन में पहुंची। जिसके बाद उन्हें काल सेंटर से कमांड किया गया।

R K Vij

पुलिस कंट्रोल रूम और फायर ब्रिगेड़ के रूट डायवर्ट
पुलिस की योजना डायल 112 में डेमोस्ट्रेशन के लिए पुलिस कंट्रोल रुम 100 और फायर ब्रिगेड़ के 101 नंबर के रुट डायवर्ट किए गए थे। इन नंबरों पर आ रहे कॉल सीधे 112 नंबर के कॉल सेंटर में ड्राप हो रहे है। जहाँ लोगो की समस्या पूछ कर डायल 112 की टीम को कोर्डिनेट किया जा रहा है।

ये भी पढ़े : चुनाव आयोग ने लटकाया कलेक्टरों का तबादला…

हटाए जाएंगे पीसीआर वाहन
डायल 112 के लांच होने के साथ ही जिलेवार पुलिस कंट्रोल रूम वाहनों को हटाने की तैयारी भी हो रही है। गश्ती दल को सीधे डायल 112 में अटैच वाहनों में शिफ्ट करने की योजना है। 300 वाहनों की खरीदी ढाई सौ करोड़ के इस प्रोजेक्ट में 250 चारपहिया और 50 दोपहिया वाहन खरीदे जाएंगे।