दूसरे के घर में मंगाई एसी और हो गए ग़ायब, गिरफ़्तार

आरोपी के कब्जे से बरामद हुए 2 नग एसी

रायपुर। रायपुर के एक इलेक्ट्रॉनिक दूकान से कस्मटर बनकर दो एससी की ठगी का मामला पुलिस ने सुलझा लिया है। इस मामलें में पुलिस ने एक शातिर अपराधी को गिरफ्तार किया है। इस शातिर के खिलाफ पहले भी कई थानों में आपराधिक मामलें दर्ज़ है।

एसी चोर
इस मामलें का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि प्रार्थी भव्य कुमार डिगवानी ने थाना कबीर नगर में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसमें श्रीराम इलेक्ट्रानिक्स दुकान का संचालन करता है। प्रार्थी ने बताया कि 24 मई को आरोपी ने प्रार्थी के नम्बंर पर कॅाल करके बोला कि आपके शो रूम से मैने दो एसी सैमसंग कम्पनी का पन्सद किया है। जिसे आप अविनाश आशियाना कबीर नगर भेज दिजीए। जिसकी कीमत लगभग 72,000 हजार होती है जिसका भुगतान मैं गाडी वाले डिलीवरी ब्वॅाय को कर दूॅगा। डिलीवरी ब्वॅाय घनश्याम एसी लेकर उक्त पते पर पहुंचा एवं फोन किया।

एसी चोर                    तो वह आकर बोला कि पास में ही घर पर देना है, एवं एक मकान के आगे आकर एक लडके को बुलाया उक्त मकान बंद था और बोला कि भाभी आ रही है एसी को यही उतार दो। उसके पश्चात उक्त मोबाईल नंबर वाला लड़का आटो वाले को बोला की चलो बैंक से पैेसे निकाल कर देता हूूॅ। कुछ देर पश्चात एक पेट्रोल पंप के पास एक अन्य लड़का आया तथा बैंक के पास गये और डिलीवरी ब्वाय को बोला की आप यही रूको मै पैसा लेकर आता हूॅ। बहुत अधिक समय व्यतीत होने के पश्चात जब वह लड़का नहीं आया तो उक्त नंबर पर फोन किया वह नंबर बंद था, और लगातार बंद आते रहा जिस पर डिलिवरी ब्वाय घनश्याम उक्त पते पर गया जहां एसी को छोड़ा था, वहां से दोनों एसी भी गायब था।

सीसीटीवी फुटेज से मिला सुराग़
इस मामलें की जाँच पड़ताल के लिए बनी टीम ने डिलिवरी ब्वाय के द्वारा बताये गये सभी रास्तों में लगे सीसीटीव्ही फूटेजो को बारिकी से विश्लेषण किया गया। आरोपी की पतासाजी हेतु मुखबीर लगाने के साथ – साथ इस प्रकार के ठगी करने वाले आरोपियों की भी जानकारी प्राप्त की। सी.सी.टीव्ही एवं सायबर सेल के तकनिकी शाखा ने आरोपी का इनपुट दिया था, जिस पर आरोपी शुभम सिंह को पकड़कर पूछताछ किया गया। जिसके बाद आरोपी ने ठगे की घटना को काबुल किया।