नेत्रोत्सव के साथ स्वस्थ हुए भगवान जगन्नाथ, 15 दिनों बाद हुए दर्शन

रायपुर। ज्येष्ठ पूर्णिमा से लेकर आषाढ़ अमावस्या तक 15 दिनों से बंद भगवान जगन्नाथ मंदिर के पट शुक्रवार को विशेष पूजा-अर्चना के बाद खोल दिए गए। सदर बाजार स्तिथ भगवान् जगन्नाथ मंदिर में पंडितों ने मंत्रोच्चार के साथ विधिविधान से भगवान जगन्नाथ का नेत्रोत्सव संस्कार संपन्न करवाया और भगवान का आकर्षक श्रृंगार किया। पट खुलने पर महाआरती की गई और भक्तों को प्रसाद बांटा गया। शनिवार को सुबह पुनः अभिषेक व श्रृंगार करके धूमधाम से रथयात्रा निकाली जाएगी और भगवान अपने भाई बलभद्र व बहन सुभद्रा के साथ नगर भ्रमण पर निकलेंगे।
राजधानी रायपुर के सदरबजार स्थित जगन्नाथ मंदिर में पुजारी परिवार पिछले डेढ़ सौ सालों से भगवान की सेवा कर रहा है। भगवान की सेवा में इस परिवार की 9 पीढ़ियां गुजर गईं। ओमप्रकाश पुजारी बताया कि पिछले 40 सालों से स्व. मुकेश पुजारी सदरबजार स्थित जगन्नाथ मंदिर में अपनी सेवा दे रहे थे। उनके जाने के बाद अब वे ही यहाँ की व्यवस्था देख रहे है। उनसे पहले स्व. कृष्ण प्रकाश पुजारी और स्व. गोपाल पुजारी ने भी इस परंपरा का निर्वहन किया। उन्होंने बताया कि पुरी के जगन्नाथ के रथ का एक पहिया सदरबजार स्थित मंदिर में श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए रखा गया है। श्रद्धालु लगातार मंदिर पहुंचकर इसका दर्शन लाभ ले रहे हैं।

जगन्नाथ धाम से होगा सीधा प्रसारण
स्वामी जगन्नाथ रथयात्रा का पूरी ओडिशा से सीधा प्रसारण देश टीवी पर हिंदी कमेंट्री के साथ देखा जा सकता है। छत्तीसगढ़ में पहली बार पुरी ओडिशा से देश टीवी पर दिखाया जाएगा। रथयात्रा से जुडी रस्मों का प्रसारण सुबह 8:00 से शाम 6:30 बजे तक किया जाना है। जिसे देखने के लिए अपने टीवी चैनल में
ओरटेल कम्युनिकेश नेटवर्क के 722 नंबर चैनल और हैथवे / सीसीएन केबल नेटवर्क में 865 नंबर पर देख सकते है। साथ ही हमारी वेबसाइड पर इसका सीधा प्रसारण देखा जा सकता है।