रथयात्रा : तीसरे दिन वराह रूप में हुए महाप्रभु जगन्नाथ के दर्शन

रायपुर। महाप्रभु जगन्नाथ बहन सुभद्रा , बड़े भाई बलराम व सुदर्शन जी के साथ गुंडिचा मंडप मौसी घर में इन दिनों भक्तों को दर्शन दे रहे हैं। गायत्री नगर स्थित जगन्नाथ मंदिर के गुंडिचा मंदिर में सोमवार को महाप्रभु ने वराह अवतार में भक्तों को दर्शन लाभ दिया। मंदिर के पुजारी व उनके सहयोगियों ने भगवान का विशेष शृंगार किया गया है।
भगवान् जगन्नाथ रथयात्रा के हर दिन अपने अलग अलग रूपों में भक्तों को दर्शन दे रहे है। रथयात्रा के तीसरे दिन महाप्रभु ने वराह रूप धारण कर भक्तो को दर्शन दिया। गायत्री नगर स्थित जगन्नाथ मंदिर गुंडिचा में भगवान् की विधिविधान से पूजा अर्चना की गई। महाप्रभु की प्रातः आरती के बाद भोग लगाकर भक्तों में बांटा गया। ऐसी मान्यता है कि जब हिरण्याक्ष नामक राक्षस पृथ्वी को बलपूर्वक घसीटकर समुद्र के नीचे ले गया था, तब विष्णु ने पृथ्वी की रक्षा हेतु वराह अवतार धारण किया। वराह और हिरण्याक्ष के बीच 1000 वर्ष तक युद्ध चला फिर वराह ने राक्षस को मार डाला और पृथ्वी को अपने दांतो पर उठाकर जल से बाहर ले आए थे। स्वामी जगन्नाथ रथयात्रा के दौरान अपने विभिन्न अवतारों में भक्तों को दर्शन दे रहे है। हर रोज़ सैकड़ों श्रद्धालु भगवान् जगन्नाथ के अलग अलग रूपों का दर्शन लाभ ले रहे है।

देश टीवी में होगा सीधा प्रसारण 
स्वामी जगन्नाथ स्वामी की बहुड़ा यात्रा का सीधा प्रसारण 22 और 23 तारीख को देश टीवी पर हिंदी कमेंट्री के साथ प्रसारित किया जाएगा। बहुड़ा यात्रा से जुडी रस्मों का प्रसारण 22 तारीख को किया जाएगा साथ ही 23 तारीख को देवशयनी एकादशी के दिन भगवान् जगन्नाथ के क्षीरसागर में जाने के बाद शयन के लिए की जाने वाली तैयारी और पूजापाठ का प्रसारण भी किया जाएगा। जिसे देखने के लिए अपने टीवी चैनल में ओरटेल कम्युनिकेश के 722 नंबर चैनल और हैथवे / सीसीएन केबल नेटवर्क में 865 नंबर पर देख सकते है। साथ ही हमारी वेबसाइड deshtv.in पर इसका सीधा प्रसारण देखा जा सकता है।