दर्शन देने निकले महाप्रभु जगन्नाथ, रमन ने निभाई छेरा पहरा की रस्म

 

रायपुर। भगवान् जगन्नाथ भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा के साथ नगर भ्रमण पर निकल गए है। स्वामी जगन्नाथ मंदिर गायत्री नगर से भगवान् की रथयात्रा पुरे विधिविधान से निकली।
भगवान् के रथयात्रा की शरुवात करने प्रदेश के मुखिया पहुंचे और उन्होंने छेरा पहरा की रस्म अदा की। मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के साथ उनकी धर्मपत्नी वीणा सिंह भी मौज़ूद रही। सीएम के आलावा विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, धर्म व न्यास मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, मंत्री राजेश मूणत, विधायक श्रीचंद सुंदरानी, महापौर प्रमोद दु​बे समेत बीजेपी और कांग्रेसी नेताओं ने रथयात्रा में शामिल होकर रथ खींचे। रथ मेें भगवान जगन्नाथ, माता सुभद्रा और अग्रज बलदाऊ को काफी खूबसूरती से सजाया गया है। इस मौके पर रथयात्रा में रथ खींचने हजारों की संख्या में लोग उमड़े हुए हैं। मंदिर परिसर को हर बार की तरह इस बार अलग तरीके से सजाया गया है। तोरण, ध्वज-पताका से सुसज्जित किया गया है। भगवान को छप्पन भोग चढ़ाया गया।
गौरतलब है कि गायत्री नगर स्तिथ जगन्नाथ मंदिर ही नहीं बल्कि कई स्थानों से निकलती है। इसमें स्वामी जगन्नाथ मंदिर पिछले पांच सौ सालों से भक्तों को दर्शन देने रथ से निकलते है। टुरी हटरी स्तिथ जगन्नाथ मंदिर में सालों से रथयात्रा निकाली जा रही है। इस साल भी रथयात्रा के लिए पूरे मंदिर परिसर को सजाया गया। वहीं भगवान के नगर भ्रमण के लिए मंदिर के तक़रीबन 100 साल पुराने रथ को तैयार कर रथयात्रा निकाली गई। रथ में एक साथ भगवान जगन्नाथ भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा नगर भ्रमण पर निकलें।

किसानों को देंगे खुशहाली का आशर्वाद
मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा कि भगवान् जगन्नाथ से आज प्रदेश की जनता के लिए आशर्वाद मांगने पंहुचा। छेरा पहरा की रस्म अदा की। भगवान् की कृपा हम सभी पर रहे यही कामना है। बीते तीन चार दिनों की बारिश को देखकर उम्मीद है पिछले बार की तरह हमें सूखे का प्रकोप नहीं झेलना पड़ेगा। स्वामी जगन्नाथ का आशीर्वाद हमारे किसान भाइयों को जरूर मिलेगा अच्छी बारिश होगी। मुझे विश्वास है भगवान् उन्हें खुशहाली का आशीर्वाद देंगे।