Big News : बयान पर बवाल के बाद भाजपा से बाहर हुए मंतुराम…विक्रम उसेंडी ने किया निष्काषित…

अंतागढ़ मामलें में 7.5 करोड़ में खरीद फरोख्त का दिया था बयान

रायपुर। अंतागढ़ मामलें में धारा 164 के तहत कोर्ट में दिए गए बयान के बाद मची सियासी खलबली ने आखिरकार मंतुराम पवार को भाजपा से बाहर का रास्ता दिखा दिया। अंतागढ़ उपचुनाव में हुए कथित खरीद फ़रोख़्त को लेकर कुछ दिन पहले ही मंतुराम ने अपने खुलासे से सूबे में सियासी भूचाल ला दिया था। मंतुराम ने तत्कालीन सरकारों के मंत्री और सुबा-ए-सदर पर भी इस खरीद फरोख्त में शामिल होने का खुलासा किया था।

इसके अलावा उन्होंने स्थानीय एसपी पर भी दबाव बनाने की बात मीडिया में कही थी। जिसे लेकर मंतूराम पवार को भारतीय जनता पार्टी ने आज निष्काषित कर दिया है। भाजपा की ओर से जारी निष्कासन पत्र में कहा गया है कि उनकी पार्टी विरोधी गतिविधियों की वजह से उनको निष्कासित किया गया है।

हालांकि मंतूराम के निष्काशन की चर्चा उनके बयान और खुलासे के बाद से ही लगाए जा रहे थे, जिस पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ रमन सिंह ने भी प्रदेशाध्यक्ष का अधिकारक्षेत्र बताते हुए उनके द्वारा फैसला लेने की बात कही थी।