जंगल सफारी में नंदनवन जू लोकार्पित, दिखेंगे सफेद शेर, रॉयल बंगाल टायगर

लगभग 50 एकड़ में बने चिड़ियाघर में आए नए मेहमान

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वन्य प्राणी सप्ताह के दौरान आज नवा रायपुर अटल नगर स्थित नंदनवन जंगल सफारी में चिड़ियाघर (जू) का लोकार्पण किया। अब जंगल सफारी चिड़ियाघर में वन्य प्राणियों के लिए कुल 37 बाड़े होंगे। लगभग 50 हेक्टेयर क्षेत्र में विकसित किए जा रहे इस चिड़ियाघर में अभी 11 बाड़े बनाए गए हैं। चिड़ियाघर में प्राकृतिक परिवेश में दो व्हाइट टाइगर, 4 लायन, 2 रायल बंगाल टाइगर, 2 लेपर्ड, 2 हिमालयन बियर, 2 हिप्पोपोटेमस, 2 घड़ियाल, 20 ताजे पानी में पाए जाने वाले कछुए, 4 बेंगाल मॉनिटर लिजार्ड, 13 स्टार कछुए, 8 क्रोकोडायल अलग-अलग बाड़े में रखे गए हैं।

                मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस अवसर पर कहा कि राज्य सरकार वन्य प्राणियों और वनों के संरक्षण तथा संवर्धन के लिए दृढ़ संकल्पित है। वन विभाग द्वारा विकसित जंगल सफारी और चिड़ियाघर देश में अनूठा है । भविष्य में यहां और भी नए वन्य प्राणी आएंगे। वन्य प्राणियों के लिए सुविधाएं विकसित की जाएंगी । यहां आने वाले पर्यटकों के लिए भी अच्छी व्यवस्था की जाएगी। मुख्यमंत्री ने सफारी जू में अलग-अलग वन्य प्राणियों के लिए बनाए गए बाड़ों का भी लोकार्पण किया।

जंगल सफारी में बनेगे 7 नए बाड़े
इस वर्ष नंदनवन जू में सात नए बाड़े बनाए जाएंगे, जिनमे ब्लैक बक, लकड़बग्घा, लोमड़ी, सियार, नील गाय, बार्किंग डियर और सांभर रखे जाएंगे। उल्लेखनीय है कि नवा रायपुर स्थित जंगल सफारी लगभग 270 हेक्टेयर में विकसित की गई है, जिसमें प्राकृतिक परिवेश में शाकाहारी वन्य प्राणी, 125 चीतल, 50 ब्लैकबक , 20 सांभर, 9 बार्किंग डियर, 20 नील गाय, 5 भालू और 2 भालू के बच्चे,  4 टाइगर और 7 लायन वर्तमान में है।