और विराट हुए “कप्तान विराट…” शतक के साथ बनाए कई रिकॉर्ड

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग के रिकार्ड के बराबर पहुंचे विराट

नई दिल्ली। बतौर कप्तान अपना 50 वां टेस्ट खेलने उतरे विराट कोहली ने आज शानदार शतकीय पारी खेली है। हालाँकि की विराट का बल्ला बीते 10 पारियों के बाद सीधे शतकीय धमाके के साथ चमका है। इस शतक के साथ विराट के टेस्ट करियर में अब 26 शतक पुरे हो गए है। विराट ने साल 2018 दिसंबर में पर्थ टेस्ट के दौरान अपना शतक लगाया था। 10 पारियों के बाद विराट के बल्ले से हुई रनों की बौछार में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही सीरीज के पुणे टेस्ट मैच के दूसरे दिन उन्होंने 173 गेंदों में अपना शतक पूरा किया। इस शतक में विराट के बल्ले से 16 चौके भी निकले है। इस शतक के साथ ही विराट ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग के सबसे बड़े रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है।

बतौर कप्तान विराट ने सर्वाधिक शतक लगाने वाले पूर्व ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज और कप्तान रिकी पोंटिंग की बराबरी कर ली है। बतौर कप्तान दोनों के नाम अब 19-19 शतक है। पूर्व साउथ अफ्रीकी कप्तान ग्रीम स्मिथ 25 शतकों के साथ टॉप पर है। इसके आलावा 15 शतक लगाने वाले एलन बॉर्डर, स्टीव वॉ, स्टीव स्मिथ जैसे खिलाड़ी भी है। इसके साथ ही कप्तान कोहली 50 टेस्ट मैचों में कप्तानी करने वाले महेंद्र सिंह धोनी के बाद दूसरे भारतीय खिलाड़ी भी बन गए है। कोहली ने महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शुरू हुए दूसरे टेस्ट मैच में यह उपलब्धि हासिल की। इसके पहले कोहली पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (बतौर कप्तान 49 टेस्ट) के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर थे। कोहली और गांगुली से पहले पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 2008 से 2014 तक 60 टेस्ट मैचों में भारत के लिए कप्तानी की थी।

कम पारियों में तूफ़ानी बल्लेबाज़ी
इस शतक के साथ ही विराट ने जहाँ पोंटिंग के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है, वहीं टेस्ट क्रिकेट की सबसे कम पारियों में ज़्यादा शतक जड़ने वाले खिलाड़ी भी बन चुके है। टेस्ट क्रिकेट में सबसे कम पारियों में 26 शतक के आंकड़ों पर अगर नज़र डाली जाए तो डॉन ब्रैडमैन, स्टीव स्मिथ और सचिन तेंदुलकर के बाद चौथे स्थान पर है। ब्रैडमैन ने 69, स्मिथ ने 121 और सचिन ने 136, जबकि विराट ने 138 पारियों में 26 शतक लगाए है।