CWC सट्टा बाज़ार : भारत और इंग्लैंड खेलेंगे फ़ाइनल

इंग्लैंड बना विश्व कप में सट्टा बाजार की पहली पसंद

नई दिल्ली। वर्ल्ड कप में फाइनल मुकाबले में कौन पहुंचेगा इसका अंदाजा लगाना फिलहाल नामुमकिन सा है। लेकिन सट्टा बाजार ने वर्ल्ड कप फाइनल की दो टीमों के लिए कयास लगा लिया है। सट्टा मार्केट के मुताबिक विश्व कप के फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड और भारत की टीम आमने सामने होगी। सट्टा बाजार में न सिर्फ इन दोनों के फाइनल मैच में पहुंचने का भाव खुला है, बल्कि फाइनल जीतने का भी भाव खुल चुका है।

              जिसमें सट्टा बाजार ने इंग्लैंड को पहले नंबर पर रखा है। इंग्लैंड के बाद दूसरे नंबर पर भारत अपना कब्जा जमाए हुए है। सट्टा बाजार का आंकड़ा अगर देखा जाए तो पूरे विश्व कप में सबसे फेवरेट टीम इंग्लैंड को माना जा रहा है। इंग्लैंड के बाद सेकंड टॉप पोजीशन में भारतीय टीम एक ऐसी टीम के रूप में सामने हैं, जो विश्व कप जीतने का माद्दा रखती है। विश्वकप के लिए भारत पर 3 / 1 के भाव से सट्टा मार्केट खुला है।

             वहीं इंग्लैंड पर 2 / 1 के भाव के साथ सट्टे का बाजार चल रहा है। विश्व कप खेल रही 10 टीमों में दसवें नंबर पर अफगानिस्तान की टीम है, जिस का भाव ढाई सौ में एक रुपए खुला है। वहीं भारत के साथ हाईवोल्टेज मैच खेलने वाली टीम पाकिस्तान की अगर बात की जाए, तो पाक की टीम सट्टा बाजार के भाव में सातवें नंबर पर खड़ी है। इसमें 20 रुपए में एक रुपए के भाव से पाकिस्तान की टीम सट्टा बाजार पर सामने आई है।

भारत और इंग्लैंड5 बार की विश्व विजेता तीसरे नंबर पर
विश्व कप के पांच ट्रॉफी जितने वाली टीम ऑस्ट्रेलिया भी इस बार सत्ता बाजार में नीचे लुढ़की है। ऑस्ट्रेलिया की टीम पर 7 / 1 के भाव से सट्टा बाजार खुला है। जब की इस बार स्मिथ और वॉर्नर जैसे धाकड़ खिलाड़ियों की वापसी से टीम और भी मजबूत हुई है।

संबंधित पोस्ट

जश्ने-आजादी के साथ यह भी याद रखनी चाहिए

भारत में कोविड के 53 हजार नए मामले, 871 मौतें दर्ज

भारत में 1 दिन में कोरोना के रिकार्ड 57,117 नए मामले, 764 मौतें

भारत में कोविड-19 से ठीक होने की दर 48.20 प्रतिशत

भारत ने चीन से पैंगोंग झील से अपने सैनिक व संरचनाएं हटाने को कहा

Corona Update : भारत के मोस्ट वांटेड दाउद और उसकी पत्नी संक्रमित निकले

हांगकांग पर चर्चा को तैयार अमेरिका, चीन ने भारत को दिए सुलह के संदेश

इस्लामोफोबिया : भारत के मुख्यमंत्रियों को बड़ी साजिश से आगाह

LockDown Impact : ऑनलाइन शिक्षा में यूएई की मदद करेगा भारत

भारत को अगला विनिर्माण केंद्र बनाने की योजना : अनुराग ठाकुर

भारत के लिए सुरक्षा परिषद की सीट का चुनावी तंत्र तय होना अभी बाकी

भारत में 8 अरब से अधिक अमेरिकी डॉलर का चीन ने किया निवेश