आईपीएल नीलामी : कमिंस बने लीग इतिहास के सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी बने

युवराज को दिल्ली डेयरडेविल्स ने 16 करोड़ रुपये में खरीदा

कोलकाता (IANS)| आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कमिस पर गुरुवार को जारी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल)-2020 की नीलामी में जमकर पैसा बरसा। कमिंस के लिए दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की बीच कड़ी टक्कर चली, जिसमें बाद में कोलकाता नाइट राइडर्स भी शामिल हो गई और 15.50 करोड़ रुपये में अपने साथ ले गई। इसी के साथ कमिंस आईपीएल इतिहास में सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी बने। उन्होंने बेन स्टोक्स को पीछे किया। स्टोक्स को 14.50 करोड़ में राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स ने लिया था। कमिंस दो करोड़ की बेस प्राइस के साथ आए थे। कमिंस के पास युवराज को सिंह को पीछे छोड़ आईपीएल नीलामी में सबसे महंगे खिलाड़ी बनने का मौका आया था लेकिन वह चूक गए। युवराज को दिल्ली डेयरडेविल्स ने 16 करोड़ रुपये में खरीदा था।

आस्ट्रेलिया के ग्लैन मैक्सवेल के जेब भी गरम हुई। किंग्स इलेवन पंजाब ने हरफनमौला खिलाड़ी के लिए खूब जद्दोजहद की। इसमें दिल्ली कैपिटल्स भी शामिल थी। अंतत: मैक्सवेल को उनकी पुरानी टीम पंजाब ने 10.75 करोड़ रुपये में अपने नाम किया। मैक्सवेल दो करोड़ की बेस प्राइस के साथ आए। पिछले सीजन दिल्ली के लिए खेलने वाले दक्षिण अफ्रीका के क्रिस मौरिस इस सीजन रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के लिए खेलेंगे। बेंगलोर ने उनके लिए 10 करोड़ खर्च किए हैं। उनकी बेस प्राइस 1.50 करोड़ थी। यह तीनों ही खिलाड़ी अभी तक 10 करोड़ रुपये की सीमा पार करने में सफल रहे हैं।

उम्मीद थी कि आस्ट्रेलिया के क्रिस लिन के नीलामी में बड़ी जंग देखी जाएगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ और मौजूदा विजेता मुंबई इंडियंस ने लिन को बेस प्राइस दो करोड़ रुपये में अपने नाम किया। उनके लिए किसी और ने नीलामी में बोली नहीं लगाई। आस्ट्रेलिया की सीमित ओवरों की टीम के कप्तान एरॉन फिंच एक करोड़ की बेस प्राइस के साथ उतरे थे। उनके लिए कोलकाता और बेंगलोर ने जमकर बोली लगाई और अंतत: विराट कोहली की कप्तानी वाली बेंगलोर 4.40 करोड़ रुपये में फिंच को अपने साथ लेने में सफल रही।

इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन के लिए जरूर बोली में जंग देखी गई। 1.5 करोड़ की बेस प्राइस वाले मोर्गन को अंतत: कोलकाता ने 5.25 करोड़ में अपने नाम किया। इंग्लैंड के बॉलिंग ऑलराउंडर सैम कुरेन को 5.50 करोड़ रुपये में चेन्नई सुपर किंग्स ने खरीदा। सैम का बेस प्राइस एक करोड़ रुपये था। उम्मीद थी कि आस्ट्रेलिया के क्रिस लिन के नीलामी में बड़ी जंग देखी जाएगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ और मौजूदा विजेता मुंबई इंडियंस ने लिन को बेस प्राइस दो करोड़ रुपये में अपने नाम किया। इंग्लैंड के क्रिस वोक्स को दिल्ली ने 1.50 करोड़ रुपये में खरीदा। वहीं हरफनमौला खिलाड़ी युसूफ पठान को कोई खरीददार नहीं मिला। वह पिछले सीजन सनराइजर्स हैदराबाद में खेले थे। कोलिन डी ग्रांडहोम को भी किसी ने नहीं खरीदा।

पिछले सीजन कोलकाता के लिए खेलने वाले रोबिन उथप्पा 1.50 करोड़ बेस प्राइस के साथ नीलामी में आए थे और राजस्थान रॉयल्स ने तीन करोड़े देकर उन्हें अपने नाम कर लिया। चेतेश्वर पुजारा और पिछले सीजन दिल्ली कैपिटल्स के लिए खेलने वाले हनुमा विहारी को कोई खरीददार नहीं मिला। दोनों का बेस प्राइस 50 लाख रुपये था। दिल्ली ने विहारी की जगह इंग्लैंड के बल्लेबाज जेसन रॉय को उनकी बेस प्राइस 1.5 करोड़ रुपये में अपने साथ जोड़ा।