मप्र में कांग्रेस विधायक उमंग सिंघार पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज

भोपाल | मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायक उमंग सिंघार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं, क्योंकि उनके आवास पर महिला मित्र द्वारा आत्महत्या किए जाने के मामले में पुलिस ने आत्महत्या के लिए उकसाने का प्रकरण दर्ज कर लिया है। वहीं महिला का पुत्र आर्यन पुलिस कार्रवाई पर सवाल उठा रहा है।

हरियाणा के अंबाला की रहने वाली 39 वर्षीय सोनिया भारद्वाज ने कांग्रेस विधायक सिंघार के आवास पर रविवार को दुप्पटे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।

महिला का सोमवार को भोपाल में अंतिम संस्कार कर दिया गया। पुलिस ने बेटे आर्यन भारद्वाज और सिंघार के घर के नौकर से पूछताछ करने के बाद आत्महत्या के लिए उकसाने का शाहपुरा थाने में मामला दर्ज कर लिया है।

पुलिस का कहना है कि महिला के बेटे और घर के नौकर से पूछताछ में पता चला है कि महिला और पूर्व मंत्री के बीच नोकझोंक होती थी। साथ ही सुसाइड नोट में भी इसके संकेत मिThe case of female suicide at the residence of Congress MLA in Bhopal heats up, BJP's target on Congress.ले हैं कि महिला ने दवाब में आकर आत्महत्या की है। उसके बाद ही मामला दर्ज किया गया है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश भदौरिया ने मामला दर्ज किए जाने की मीडिया से पुष्टि की है।

पूर्व मंत्री सिंघार के लिखाफ मामला दर्ज होने के बाद महिला के बेटे आर्यन ने पुलिस कार्रवाई पर ही सवाल उठा दिए हैं। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे आर्यन के बयान में उसका कहना है कि, “पुलिस ने जो एफआईआर दर्ज की है उसे वापस लेना चाहिए क्योंकि यह बिना सबूत के दर्ज की गई है। पुलिस को दिए गए बयान में मैने ऐसा कुछ भी नहीं कहा था कि उमंग सिंघार का दोष है और न ही कुछ हमें ऐसा लगता है कि उनका दोष है। मम्मी के बाद अगर यहां कोई गार्जियन है तो वही (उमंग सिंघार) हैं, इसलिए एफआईआर वापस लें ताकि हम लोग यहां शांति से रह पाएं।”

ज्ञात हो कि दो दिन पहले पूर्व मंत्री सिंघार की महिला मित्र सोनिया ने आत्महत्या की थी। सोनिया से पूर्व मंत्री की मित्रता थी और उसका सिंघार के घर पर आना जाना था। वह पिछले कई दिनों से उनके आवास पर थी और रविवार को उसने दुपट्टे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। महिला पहले से शादीशुदा थी और उसका एक बेटा भी है। पुलिस को मौके पर सुसाइड नोट भी मिला था।

–आईएएनएस