Corona Update : हर दिन नए रिकॉर्ड बना रहा दिल्ली, 129 मौतें

24 घंटे में 2000 से ज्यादा लोग पॉजिटिव

नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना हर दिन नए रिकॉर्ड बना रहा है। बीते 24 घंटे के दौरान दिल्ली में 2137 पॉजिटिव मामले आए हैं। यह दिल्ली में अब तक, एक दिन में सामने आई कोरोना पॉजिटिव लोगों की सबसे बड़ी संख्या है। इसके साथ ही दिल्ली में कोरोना से 129 लोगों की मौत हुई है।

दिल्ली में कोरोना के 129 और रोगियों की मृत्यु के बाद दिल्ली में कोरोना वायरस से मरने वाले लोगों की कुल संख्या बढ़कर 1214 हो गई है। दिल्ली में अभी तक 36,824 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं।

दिल्ली में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए उपराज्यपाल अनिल बैजल ने 6 सदस्यीय विशेष कमेटी का गठन किया है। इस कमेटी में एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया और आईसीएमआर के महानिदेशक बलराम भार्गव को शामिल किया गया है।

दिल्ली सरकार ने कोरोना बुलेटिन में कहा, “कोरोना से मरने वाले कुल 129 लोगों में से 71 लोगों की मृत्यु बीते 24 घंटे के दौरान हुई है। वहीं शेष 58 रोगियों की मृत्यु 9 मई से 10 जून के बीच हुई है।”

36,824 कोरोना पॉजिटिव लोगों में से 13,398 कोरोना रोगी अभी तक स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं अभी भी दिल्ली में 22,212 एक्टिव कोरोना रोगी हैं। इनमें से अधिकांश रोगियों का घर पर ही उपचार चल रहा है।

दिल्ली में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण के कारण यहां कोरोना हॉटस्पॉट्स की संख्या भी बढ़ती जा रही है। दिल्ली में हॉटस्पॉट्स की संख्या बढ़कर 222 हो चुकी है।

दिल्ली सरकार के मुताबिक, 17,261 कोरोना रोगियों को उनके घरों में ही आइसोलेशन में रहने को कहा गया है। डॉक्टरों की एक टीम इन रोगियों से संपर्क रख रही है। इनमें से अधिकांश लोग ऐसे हैं जिन्हें सांस लेने में समस्या नहीं है। दिल्ली सरकार के मुताबिक, इनमें से किसी की स्थिति बिगड़ने पर ही उसे अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा।

दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने कहा, “यह एक असाधारण स्थिति है और दिल्ली सरकार पहले दिन से ही बेहतर बुनियादी ढांचा स्थापित करने और सभी कोविड-19 रोगियों को स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने की पूरी कोशिश कर रही है। हमारे अस्पतालों के सारे फ्रंटलाइन वर्कर्स, यानी डॉक्टर्स और नसिर्ंग स्टाफ, लोगों की सेवा के लिए दिन-रात काम कर रहे हैं। मरीजों की सेवा के प्रति समर्पित अस्पताल में तैनात कई डॉक्टर पिछले 2 महीने से अपने घर भी नहीं गए हैं।”

दिल्ली सरकार के मुताबिक, जुलाई अंत तक दिल्ली में कोरोना के लगभग साढे पांच लाख रोगी होंगे। इतनी बड़ी संख्या में रोगियों के उपचार एवं बेड की आवश्यकता को पूरा करने के लिए दिल्ली सरकार दिल्ली के विभिन्न स्टेडियमों में बेड लगाएगी।

(आईएएनएस)

संबंधित पोस्ट

दिल्ली : एएसआई ने पीसीआर वैन में खुद को गोली मारी

दिल्ली में किन्नरों के लिए खास शौचालय बनवाएगी एनडीएमसी

दिल्ली : 13 वर्षीय बच्चे का लिंग परिवर्तन कर सामूहिक दुष्कर्म, 2 आरोपी गिरफ्तार

दिल्ली : छेड़खानी के 4 मामलों में पुलिस उप-निरीक्षक गिरफ्तार

दिल्ली ने अमित मिश्रा के स्थान पर प्रवीण दुबे के साथ किया करार

दिल्ली : छात्र ने ट्रैफिक पुलिसकर्मी को कार के बोनट पर घसीटा, गिरफ्तार

टिड्डियां भगाने के लिए ढोल, ड्रम और डीजे बजवाएगी दिल्ली सरकार

मप्र में मंत्रिमंडल विस्तार जल्द, संगठन से चर्चा,दिल्ली जाएंगे : शिवराज

निजी अस्पतालों की तय होगी फीस, टेस्टिंग का 50 प्रतिशत कम होगा रेट

Corona Update : दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 19 मरे, अब तक 148 मौत

दिल्ली : 112 कोरोना लाशों को दफनाने वाले को नहीं मिले पर्याप्त पीपीई किट

दिल्ली में 20 अप्रैल के बाद कोरोना मामलों में गिरावट, मत्यु दर भी कम : केजरीवाल